Hindi News »Himachal »Hamirpur» अस्पताल में सिटी स्कैन सुविधा बंद, नई इमरजेंसी में भी व्यवस्थाएं अधूरी

अस्पताल में सिटी स्कैन सुविधा बंद, नई इमरजेंसी में भी व्यवस्थाएं अधूरी

जिला मुख्यालय स्थित रीजनल अस्पताल में सिटी स्कैन सुविधा ठप पड़ने से मरीजों को बैरंग लौटने पर विवश होना पड़ रहा है।...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 13, 2018, 02:00 AM IST

जिला मुख्यालय स्थित रीजनल अस्पताल में सिटी स्कैन सुविधा ठप पड़ने से मरीजों को बैरंग लौटने पर विवश होना पड़ रहा है। हालात तो यह हैं कि यहां मरीजों की असुविधाओं का संस्थान ज्यादा लगने लगा है। लंबे समय से इस अस्पताल की व्यवस्थाएं नहीं सुधर पाने के कारण जहां मरीजों को स्पेशलिस्ट की कमी से दो-चार होना पड़ता रहा है। वहीं सुविधाओं के लिए भी रोजाना समस्या से दो-चार होना पड़ रहा है। यहां कम रेट पर सिटी स्कैन की सुविधा मिल जाती है, लेकिन इसके ठप पड़ने से मरीजों को निजी क्षेत्र में जाकर महंगे दामों पर यह सुविधा लेनी पड़ रही है।

दो दिनों से पड़ी है बंद : इस अस्पताल के डायग्नोस्टिक सेंटर में हर रोज दोपहर बाद मरीजों की सिटी स्कैन होती है। यहां रोजाना 10 से 15 या ज्यादा मरीज सिटी करवाते हैं, किसी को तो डेट भी मिलती है। पिछले दो दिनों से यह मशीन आउट ऑफ ऑर्डर होने से अब मरीजों काे इस सुविधा को लिए ही यहां से बैरंग लौटने पर विवश होना पड़ रहा है। यहां सिटी स्कैन को पहुंचे मरीजों के तीमारदार संजय कुमार, बेली राम व अजय शर्मा का कहना था कि सिटी स्कैन के लिए यहां सरकारी रेट के आधार पर एक से डेढ़ हजार का खर्चा आता है, लेकिन निजी क्षेत्र में तीन से चार हजार की राशि खर्च करके सिटी स्कैन की सुविधा लेनी पड़ रही है।

उनका कहना है कि इस अस्पताल को मेडिकल कॉलेज चलाने के लिए जब से औपचारिकताएं पूरी होने लगी हैं।

रीजनल अस्पताल सिटी स्कैन सुविधा बंद, मरीज परेशान।

महिला कर्मचारियों को भी समस्या

हालात तो यह हैं कि बेशक यहां 10 बैड की एमसीआई टीम दौरे से ठीक पहले इमरजेंसी सुविधा कर दी हो, लेकिन जहां मरीजों के बैड लगाए गए हैं, वहीं महिला कर्मचारियों को भी बैठना पड़ रहा है। रात को समस्या ज्यादा है। लाखों खर्च करके यहां इसे रेनोवेशन किया हो, लेकिन असुविधाएं तो यहां भी कम नहीं है। शौचालय के दरवाजे भी भीतर जाने पर बंद करना या खोलना आसान नहीं है। अलग-अलग डयूटी रूम यहां सैटल नहीं हो पा रहे। मरीजों को पर्ची केंद्र पर समस्या ज्यादा हो रही है।

मशीन ठीक करवाने के लिए बुलाया है इंजीनियर

सिटी स्कैन को ठीक करवाने के लिए इंजीनियर को बुलाया गया था, जो इसके पार्ट खराब हैं, उन्हें बदलने या ठीक करवाने का कार्य तेजी से किया जा रहा है ताकि मरीजों की सुविधा के लिए यह शीघ्र शुरू करवाई जा सके। इमरजेंसी की बेड सुविधा को बढ़ा दिया गया है, जहां भी समस्या आ रही है, उसे तुरंत सुधारा जा रहा है। डॉ. अर्चना सोनी, एमएस, रीजनल अस्पताल हमीरपुर

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Hamirpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×