हमीरपुर

--Advertisement--

हरियाणा की तर्ज पर हिमाचल भी बनाए ठोस नीतिः विकास

कॉमनवेल्थ गेम्स में वेट लिफ्टिंग में 94 किलोग्राम में ब्रॉन्ज मेडल पदक विजेता विकास ठाकुर का मानना है कि प्रदेश से...

Dainik Bhaskar

Apr 19, 2018, 02:00 AM IST
हरियाणा की तर्ज पर हिमाचल भी बनाए ठोस नीतिः विकास
कॉमनवेल्थ गेम्स में वेट लिफ्टिंग में 94 किलोग्राम में ब्रॉन्ज मेडल पदक विजेता विकास ठाकुर का मानना है कि प्रदेश से बहुत से खिलाड़ी अन्यों राज्यों की ओर रुख कर चुके हैं। उन्हें राज्य में वापस लाने के लिए हरियाणा सरकार जैसे खेलों को प्रमोट करती है और सम्मान देती है, उसी तर्ज पर हिमाचल सरकार को भी नीति बनानी चाहिए ताकि उन्हें यहां लाया जा सके। उन प्रदेशों में नौकरी भी सरकार साथ-साथ में ऑफर करती है। विकास का कहना है कि सांसद अनुराग ठाकुर यहां के खिलाड़ियों के साथ-साथ आगे बढ़ने के लिए काफी प्रोत्साहन दे रहे हैं। राज्य के खेल मंत्री ने भी पदक लाने बालों को सम्मान देने की बात कही है। जो घोषणा की है, वह शीघ्र पूरी होगी। ऐसा विकास को विश्वास है। वेट लिफ्टिंग गेम को बढ़ावा देने के लिए यहां सरकार को जिम खोलने चाहिए।

कंधे के आप्रेशन के कारण रही समस्या: विकास का कहना है कि कॉमनवेल्थ गेम्स के लिए तैयारी अच्छी की थी। लेकिन ओलंपिक के दौरान कंधे का आप्रेशन हुआ था, तो डॉक्टर ने कहा था कि वजन कम न करें, नहीं तो प्रॉब्लम दोबारा से हो सकती है। इसी 94 किलोग्राम प्रतियोगिता में भाग लेकर ब्रॉन्ज मेडल जीत पाया, वहां विश्व स्तर के खिलाड़ी थे। पत्रकार वार्ता में उन्होंने कहा कि वह अब 17 अगस्त से जकारता इंडोनेशिया में होने वाली एशियन गेम्स की तैयारियों में जुट गए हैं। उनके कोच विजय शर्मा हैं। विकास पटियाला में एशियन गेम्स में गोल्ड लाने के लिए तैयारी करेंगे। उनका मानना है कि खिलाड़ी कई तो गरीबी रेखा से ही नीचे होते हैं, ऐसे में मूवी मनोरंजन का साधन है और खेलों काे प्रमोट करने के लिए यदि उसमें भी कार्य करते हैं तो सही है।

पिता का कहना जब छोटा था विकास को जिम भेजने पर नाराज हो गए थे रिश्तेदार

विकास ठाकुर हमीरपुर पहंुचने पर स्थानीय विधायक नरेंद्र ठाकुर और पिता बृज ठाकुर।

बहुत शरारती था विकास: विकास के पिता बृज ठाकुर का कहना है कि विकास बचपन से ही काफी शरारती होता था, इसी कारण उसका समय वहां पर बीते, जिम में ज्वाइन करवा दिया था, तो काफी रिश्तेदार नाराज हो गए थे। कहते थे खिलौनों से खेलने की उम्र के इस बच्चे काे कहां डाल दिया है। विकास का कहना है कि जब वह 9 साल का था तो वेट लिफ्टिंग में झुकाव था, पिता को लगा, तो उन्होंने जिम में डाल दिया था। बृज ठाकुर का भी कहना है कि युवा पीढ़ी पर ध्यान देते हुए राज्य सरकार को हरियाणा की तर्ज पर नीति बनानी चाहिए।

पक्ष रखूंगा सीएम के सामने: विधायक नरेंद्र ठाकुर का कहना है कि विकास ने गांव के साथ-साथ प्रदेश का नाम भी राेशन किया है। हरियाणा की तर्ज पर नीति की जो बात उठाई है, इसको सीएम के सामने रखा जाएगा और हल करवाया जाएगा। हिमाचल के युवाओं को भी ध्यान देना चाहिए ताकि वह भी खेलों में आगे बढ़ सके। उनका कहना है कि राज्य सरकार खिलाड़ियों को आगे बढ़ने के लिए काफी कार्य कर रही है। इनके सम्मान में घोषणा भी की गई है जो शीघ्र पूरी होगी।

X
हरियाणा की तर्ज पर हिमाचल भी बनाए ठोस नीतिः विकास
Click to listen..