--Advertisement--

सुमन बन्याल को चुना एनजीओ का जिलाध्यक्ष, महासचिव प्रदीप

बाल सीनियर सेकंडरी स्कूल हमीरपुर में बुधवार को हुए अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ के चुनाव में सुमन बन्याल को सहमति...

Danik Bhaskar | Apr 19, 2018, 02:00 AM IST
बाल सीनियर सेकंडरी स्कूल हमीरपुर में बुधवार को हुए अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ के चुनाव में सुमन बन्याल को सहमति से जिला प्रधान चुना। यह चुनाव प्रदेश तदर्थ कमेटी के प्रदेशाध्यक्ष विनोद कुमार और चुनाव पर्यवेक्षक राकेश चंदेल, गोविंद ब्राक्टा, रविंद्र मेहता की देखरेख में हुए। जिसमें सभी ब्लॉकों के मनोनीत सदस्यों और कर्मचारियों ने हिस्सा लिया।

नई कार्यकारिणी में जिला प्रधान सुमन बन्याल, वरिष्ठ उप्रपधान रमेश धीमान, गौत्तम, उपप्रधान शशि जसरोटिया, अशोक कुमार, संतोष कुमार, मनोज शर्मा, राकेश कुमार, नरेश पटियाल, सुरेश कौंडल, राजेद्र सिंह को चुना गया। इनके अलावा अतिरिक्त महासचिव संजय, संयुक्त सचिव प्रवीण कुमार, विपिन कुमार, राणु राम, मुख्य संगठन सचिव देश राज, संगठन सचिव प्रदीप, कमलेश कुमारी, रमेश कुमार, सुरेश कुमार, वित्त सचिव रवि पठानिया, कार्यालय सचिव अविनाश शर्मा, प्रेस सचिव विनय शर्मा, मुख्य लेखाकार अश्वनी, लेखाकार दलेर सिंह, जसवंत सिंह, मुख्य सलाहकार राकेश, सलाहकार प्रवीण गौत्तम और कानूनी सलाहकार कुलवीर परमार को चुना गया। नव नियुक्त जिलाध्यक्ष सुमन बन्याल ने कहा कि इस संगठन का मेन मकसद बगैर किसी भेदभाव के कर्मचारियों की मांगे उठाकर प्रदेश सरकार से हल करवाना होगा। उनके लिए भी कर्मचारी और उनकी मांगे सर्वोपरि रहेंगी।

अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ के चुनावों में चुने गए िजला पदाधिकारी।

सबसे पहला मुद्दा 4-9-14 का वेतनमान

सबसे पहला मुद्दा 4-9-14 का वेतनमान और उसे पंजाब के आधार पर या केंद्र सरकार की तर्ज पर दिलाना होगा। उसके बाद नई पेंशन स्कीम में संशोधन करना या पुरानी व्यवस्था बहाल करवाना रहेगा। उन्होंने कहा कि जब तक फैसला नहीं हो जाता तब अभी जो एनपीएस में 10फीसदी हिस्सा कर्मचारी का कटता है। उसे 20 फीसदी करवाने की प्रमुख मांग उठाएंगे, ताकि 20 फीसदी कर्मचारी और 20 फीसदी सरकार का हिस्सा इसमें जाए और अधिक पेंशन का लाभ मिल सके। उन्होंने प्रदेश संयोजक विनोद कुमार और एनजीओ के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष पीसी भरमौरिया के इस मौके पर पहुंचे और मार्गदर्शन करने के साथ अाए हुए कर्मचारियों का समर्थन के लिए आभार जताया।