Hindi News »Himachal »Hamirpur» गर्भवती महिला को अचानक टांडा रेफर करने पर भड़के परिजन, गायनी डॉक्टर व तीमारदार के बीच हुआ विवाद

गर्भवती महिला को अचानक टांडा रेफर करने पर भड़के परिजन, गायनी डॉक्टर व तीमारदार के बीच हुआ विवाद

शनिवार दोपहर बाद एक गर्भवती महिला को अचानक टांडा रेफर करने के फैसले को लेकर उसके परिजन भड़क गए। मामला नोंक-झोंक से...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 29, 2018, 02:00 AM IST

शनिवार दोपहर बाद एक गर्भवती महिला को अचानक टांडा रेफर करने के फैसले को लेकर उसके परिजन भड़क गए। मामला नोंक-झोंक से हंगामा तक पहुंच गया। स्थिति बिगड़ते देख अस्पताल प्रशासन ने सदर थाने में इसकी सूचना दी, जिसके बाद पुलिस की टीम मौके पर पहुंची। हालांकि अभी इस घटना को लेकर कोई मामला दर्ज नहीं हुआ है। पुलिस की टीम इसकी जांच कर रही है। परिजन फिलहाल अपनी बेटी को इलाज के लिए जिला अस्पताल से कहीं दूसरी जगह पर ले गए हैं।

कक्कड़ इलाके की एक महिला सोमा देवी अपनी 22 साल की गर्भवती बेटी को शुक्रवार को रीजनल अस्पताल में लाई थी और उसे यहां भर्ती किया गया था। शनिवार दोपहर 12:00 बजे अचानक बेटी की तबीयत बिगड़ने पर उन्होंने जब अस्पताल प्रबंधन से लेकर बात की तो 1:00 बजे उन्हें बताया गया कि इस बाबत डॉक्टर पुन: लंच के बाद जानकारी देंगे। करीब 3:30 बजे गायनी स्पेशलिस्ट आए और परिवार को बताया गया कि उनकी बेटी को टांडा रेफर किया जा रहा है। जब परिजनों ने पूछा कि उसका ऑपरेशन यहां क्यों नहीं किया जा रहा तो बताया गया कि एनेस्थीसिया के डॉक्टर दोपहर बाद स्पेशल लीव पर छुट्टी लेकर चले गए हैं। लिहाजा ऑपरेशन आज नहीं हो सकता। इसे लेकर वहां हंगामा हो गया। परिजनों का आरोप था कि इस बाबत उन्हें लंच से पहले अगर सूचना दे दी गई होती तो वे वहां जाने का प्रॉपर इंतजाम कर पाते। परिजनों के भड़क जाने से वहां विवाद खड़ा हो गया और बताया गया कि डॉक्टर के साथ कुछ दुर्व्यवहार परिजनों की तरफ से हुआ है, जिसे लेकर वहां हंगामा हुआ है। इसे लेकर सदर थाने में सूचना दी गई। इसके बाद पुलिस वहां पहुंची, जबकि सोमा देवी का आरोप था कि उसे बेवजह 20-25 मिनट तक कमरे में रोके रखा, जबकि वह अपनी बेटी को दूसरी जगह ले जाने में साथ जाने वाली थी।

एक महिला अपनी गर्भवती बेटी को लेकर आई थी। कुछ परेशानी होने के चलते उनकी बेटी को टांडा रेफर किया गया, लेकिन उन्होंने हंगामा कर दिया। गायनी स्पेशलिस्ट के साथ दुर्व्यवहार किया गया, जिसके चलते पुलिस को सूचित कर मौके पर बुलाया गया। एनेस्थीसिया के डॉक्टर स्पेशल छुट्टी पर दोपहर बाद चले गए, जिस वजह से ऑपरेशन नहीं हो सकता था। अर्चना सोनी, एमएस, रीजनल अस्पताल हमीरपुर

ऑरिजनल अस्पताल में मरीज और डॉक्टर के बीच कोई घटना हुई है, इसे लेकर जांच अधिकारी को मौके पर जांच करने के लिए भेजा गया है। अस्पताल प्रबंधन की ओर से सूचना आई थी, जिसके आधार पर टीम वहां गई है, घटना की जांच की जा रही है। आकृति शर्मा, आईपीएस एवं कार्यकारी एसएचओ, हमीरपुर

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Hamirpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×