Hindi News »Himachal »Hamirpur» अब गर्ल्स स्कूल के स्टूडेंट्स भी पढ़ेंगे स्मार्ट क्लास रूम में

अब गर्ल्स स्कूल के स्टूडेंट्स भी पढ़ेंगे स्मार्ट क्लास रूम में

गर्ल्स सीनियर सेकंडरी स्कूल हमीरपुर में अब स्टूडेंट्स स्मार्ट क्लास रूम में पढ़ेंगे। पिछले साल इस स्कूल को मॉडल...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 30, 2018, 02:00 AM IST

अब गर्ल्स स्कूल के स्टूडेंट्स भी पढ़ेंगे स्मार्ट क्लास रूम में
गर्ल्स सीनियर सेकंडरी स्कूल हमीरपुर में अब स्टूडेंट्स स्मार्ट क्लास रूम में पढ़ेंगे। पिछले साल इस स्कूल को मॉडल स्कूल का नाम दिया गया, लेकिन अब नाम के मुताबिक यहां आधुनिक सुविधाएं भी बढ़ने लगी हैं। जिससे यहां की स्टूडेंट्स तो उत्साहित हैं ही नई सुविधा का इंतजाम होने से टीचर भी यहां पढ़ाने के लिए स्वयं को गौरवांवित महसूस कर रहे हैं। प्रिंसिपल ने वकायदा स्मार्ट क्लास रूम में पढ़ाई के लिए टाइमटेबल जारी कर दिया है, ताकि हर दिन वहां किसी न किसी क्लास की पढ़ाई सुचारू जारी रहे। काबिलेगौर है कि हमीरपुर जिला के हर विधानसभा क्षेत्र में दो-दो मॉडल स्कूल के हिसाब से पिछले साल 10 स्कूल चुने गए थे। लेकिन इनमें से गर्ल्स स्कूल के अलावा अन्य किसी में भी अभी तक स्मार्ट क्लास रूम से पढ़ाई की सुविधा शुरू नहीं हो पाई है। जबकि यहां 23 अप्रैल से पढ़ाई शुरू करवा दी गई है।

इस स्मार्ट क्लास रूम में बच्चों को ऐसा महसूस हो रहा कि मानो वे घर की तरह टीवी के सामने बैठकर किसी मनोरंजन या ज्ञानवर्धक कार्यक्रम को देख रहे हों और टीचर बीच बीच में उस कहानी के बारे उनको जागरूक रहे। इसके इंचार्ज पीजीटी संजीव शर्मा का कहना है कि संबंधित टीचर को यहां आधुनिक सिस्टम से मौजूद बड़ी स्क्रीन पर हर विषय को पढ़ाने के तौर तरीके और सिस्टम को यूज करने के गुर बताए जा रहे, उसके बाद सभी स्वयं इसका उपयोग पढ़ाई करवाने के लिए करेंगे। शनिवार को दोपहर बाद नौवीं क्लास को हिंदी और संस्कृत के व्याकरण का नॉलेज टीचर जगवीर चंदेल ने दिया गया, उन्होंने समास के बारे में स्क्रीन पर आ रहे संबंधित चित्र और आवाज सुनने के बाद इसे और भी सरल भाषा में अपने तरीके से भी समझाया।

शिक्षा विभाग ने जिस कंपनी को स्मार्ट क्लास रूम और आइसीटी लैब में यह उपकरण लगाने का जिम्मा दिया था, उसकी टीम इसे सुचारू शुरू करने के लिए रही खामियों का सर्वे करने दाे हफ्ता पहले आई थी। लेकिन प्रिंसिपल से यह सुनकर हैरान रह गए कि यहां स्कूल ने अपने स्तर पर सब व्यवस्थित कर लिया है। प्रिंसिपल नीना ठाकुर का कहना है कि एक हफ्ता पहले स्मार्ट क्लास रूम में टाइमटेबल तय कर पढ़ाई शुरू करवा दी है। हर हफ्ते दो बार हर क्लास यहां पढ़ाई करेगी। इंडोर स्टेडियम का इंतजाम भी करवाया जाएगा, साइंस लैब भवन बनेगा, गर्ल्स स्टूडेंट्स को यहां पढ़ाई सहित अन्य स्कूली गतिविधियों में आगे बढ़ने का हर मौका दिया जाएगा। इस बार सीसीटीवी के पैहरे में परीक्षा होने के बावजूद स्टूडेंट्स और टीचर ने 82 फीसदी रिजल्ट देकर साबित कर दिया कि उनकी प्रतिभा किसी से कम नहीं।

गर्ल्ज सीनियर सेकंडरी स्कूल हमीरपुर में अब स्टूडेंट्स स्मार्ट क्लास रूम में पढ़ेंगे।

आईसीटी लैब भी बना दी स्मार्ट

यहां मौजूद आईसीटी लैब को स्मार्ट क्लास रूम की तरह व्यवस्थित कर दिया गया है। इसमें भी प्रोजेक्ट सहित बड़ी स्क्रीन लगाई गई है। अलग से कमरे में आमने सामने की दो दीवारें के साथ कंप्यूटर टेबल लगाकर स्टूडेंट्स के बैठने की व्यवस्था की गई है। बीच के खाली स्पेस में अलग से कुर्सियां लगाकर सीधे स्मार्ट स्क्रीन से जानकारी लेने के लिए व्यवस्था की गई है, ताकि बड़ी स्क्रीन पर ऑनलाइन भी उनको सिखाया जा सके।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Hamirpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×