• Hindi News
  • Himachal
  • Hamirpur
  • मोबाइल टावर लगाने के नाम पर ठगी करने वाला गिरोह राजस्थान से पकड़ा
--Advertisement--

मोबाइल टावर लगाने के नाम पर ठगी करने वाला गिरोह राजस्थान से पकड़ा

Hamirpur News - मोबाइल टावर के नाम पर ठगी करके लोगों के पैसे हड़पने वाले राजस्थान के एक गिरोह को सदर पुलिस ने पकड़ने में बड़ी...

Dainik Bhaskar

May 08, 2018, 02:00 AM IST
मोबाइल टावर लगाने के नाम पर ठगी करने वाला गिरोह राजस्थान से पकड़ा
मोबाइल टावर के नाम पर ठगी करके लोगों के पैसे हड़पने वाले राजस्थान के एक गिरोह को सदर पुलिस ने पकड़ने में बड़ी कामयाबी हासिल की है। गिरोह पिछले काफी समय से हिमाचल और आसपास के राज्यों में मोबाइल टावर लगाने को लेकर लोगों को ठगने का काम कर रहा था। इस गिरोह की हिमाचल के अलावा राजस्थान पुलिस को भी कई दिनों से तलाश थी।

गिरोह के मुख्य सरगना और उसके एक साथी को पुलिस गिरफ्तार करके हमीरपुर ले आई है। आरोपियों को पकड़ने के लिए पुलिस की टीम आठ दिनों तक राजस्थान के अलग-अलग शहरों में छापेमारी करती रही, इन्हें अब हनुमानगढ़ से दबोचा गया है। हमीरपुर के सुनली गांव के बृजमोहन ने मोबाइल टावर के नाम पर ठगने को लेकर सदर थाने में 3 नवंबर, 2017 को शिकायत दर्ज करवाई थी। शिकायतकर्ता ने कहा था कि कुछ लोगों ने उसकी जमीन पर मोबाइल कंपनी का टावर लगाने को लेकर संपर्क किया। उसकी जमीन को इसके लिए उपयुक्त बताया गया और अलग अलग तरीकों से उसे 48,000 रुपए ठगे गए। बाद में न तो टावर लगा और न ही जिन लोगों ने पैसे लिए उनका कोई सुराग लगा।। पुलिस ने मामले की जांच शुरू की और उसे जानकारी मिली कि गिरोह के तार राजस्थान से जुड़े हुए हैं। पुलिस की टीम ने हनुमानगढ़ राजस्थान से गिरोह के सरगना अजय सोनी उर्फ प्रिंस निवासी हनुमान जंक्शन और उसके साथी बंसीलाल निवासी विजय नगर हनुमानगढ़ से गिरफ्तार किया है। पुलिस की टीम ने आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए राजस्थान के आठ शहरों हनुमानगढ़, पीलीबंगा, सूरतगढ़, विजयनगर, अनूपगढ़, गढ़साना सतराणा इलाकों में दबिश दी। हनुमानगढ़ से इन्हें पकड़ने में कामयाबी मिली इसमें लोकल पुलिस की भी मदद ली गई। पुलिस के मुताबिक यह गिरोह पिछले काफी समय से अलग-अलग जगहों पर सक्रिय था और कई लोगों को शिकार बना चुका था।


X
मोबाइल टावर लगाने के नाम पर ठगी करने वाला गिरोह राजस्थान से पकड़ा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..