Hindi News »Himachal »Hamirpur» ब्रेस्ट कैंसर की प्रारंभिक जांच अब बिलासपुर में ही संभव, मिली मशीन

ब्रेस्ट कैंसर की प्रारंभिक जांच अब बिलासपुर में ही संभव, मिली मशीन

बिलासपुर। तेजी से पांव पसार रही ब्रेस्ट कैंसर बीमारी की जांच के लिए महिलाओं को अब भटकना नहीं पड़ेगा। लोकसभा सांसद...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 14, 2018, 02:00 AM IST

  • ब्रेस्ट कैंसर की प्रारंभिक जांच अब बिलासपुर में ही संभव, मिली मशीन
    +1और स्लाइड देखें
    बिलासपुर। तेजी से पांव पसार रही ब्रेस्ट कैंसर बीमारी की जांच के लिए महिलाओं को अब भटकना नहीं पड़ेगा। लोकसभा सांसद अनुराग ठाकुर ने रविवार को मदर्स-डे पर बिलासपुर में आयोजित कार्यक्रम में मातृशक्ति को ब्रेस्ट कैंसर की प्रारंभिक जांच के लिए विदेश से मंगवाई गई आधुनिक मशीन का तोहफा दिया। उन्होंने इसे कसौली मर्डर केस में शहीद हुई बिलासपुर की जांबाज बेटी शैलबाला समेत पूरी मातृशक्ति को समर्पित किया। यह मशीन सांसद मोबाइल सेवा की मेडिकल यूनिट में उपलब्ध रहेगी। लोगांे को यह सुविधा उनके घर-द्वार पर उपलब्ध कराने वाले अनुराग देश के पहले सांसद हैं।

    परंपरागत तरीकों की विफलता से बढ़ रही बीमारी

    अनुराग ठाकुर ने कहा कि कुछ अरसा पूर्व बिलासपुर के प्रवास के दौरान घुमारवीं की 2 बेटियों वर्षा ठाकुर और गरिमा ठाकुर ने ब्रेस्ट कैंसर का मुद्दा उनके समक्ष प्रमुखता से उठाया था। कैंसर की जांच के लिए अपनाए जा रहे परंपरागत तरीकों की विफलता और इसकी जांच में लगने वाला समय ही इस बीमारी के बढ़ने का सबसे बड़ा कारण है। लिहाजा वह अपने संसदीय क्षेत्र में ब्रेस्ट कैंसर की शुरुआती जांच के लिए विदेश से आयातित स्क्रीनिंग मशीन की सुविधा उपलब्ध करवाने जा रहे हैं। सांसद मोबाइल स्वास्थ सेवा के मेडिकल यूनिट अस्पताल में महिला अटेंडेंट द्वारा इस मशीन के माध्यम से अत्याधुनिक तरीके से इसकी शुरुआती जांच की जाएगी। इससे मातृशक्ति के स्वास्थ की सुरक्षा और स्वाभिमान की रक्षा होने से उनका आत्मगौरव भी बढ़ेगा।



    बिलासपुर में मदर्स-डे पर मातृशक्ति के साथ केक काटते अनुराग ठाकुर।

    शैलबाला के घर जाकर परिजनों से भी की मुलाकात

    कार्यक्रम के दौरान अनुराग ठाकुर ने बिलासपुर जिला के लिए सांसद निधि से आधुनिक तकनीक से सुसज्जित 2 अन्य वाहन भी स्वीकृत किए। उन्हांेने कहा कि हमीरपुर में इस सेवा को संचालित करने वाली प्रयास संस्था से आग्रह किया जाएगा कि वह बिलासपुर में भी लोगों को और अधिक बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध करवाने में सहयोग करे। इससे पहले अनुराग ठाकुर ने कसौली हत्याकांड में शहीद शैलबाला के परिजनों से भी मुलाकात की। उन्होंने कहा कि शैलबाला बिलासपुर की बहादुर बेटी थीं। उन्होंने कर्तव्य परायणता और मजबूत इरादों के बूते साहस और ईमानदारी की एक मिसाल कायम की। सत्य के लिए अडिग होकर खड़े रहने के उनके जज्बे को वह सलाम करते हैं। इस मौके पर भाजपा संगठन मंत्री पवन राणा, सदर के विधायक सुभाष ठाकुर, पूर्व सांसद सुरेश चंदेल, डीसी विवेक भाटिया, सीएमओ डाॅ. वीके चैधरी तथा उषा ठाकुर, भुवनेश्वरी लुंबा, प्रोमिला चंदेल, रक्षा ठाकुर, सुषमा, सीमा, सरोज, सीमा सांख्यान, राजकुमारी, उर्मिला, माया, नीतू मिश्रा, वंदना, सुभाष शर्मा, दिवेश चंदेल, सोनल शर्मा आदि भी मौजूद थे।

    जीवन में सबसे अनमोल है मां का रोल

    अपने संबोधन में अनुराग ठाकुर ने सबसे पहले मातृशक्ति को मदर्स-डे की शुभकामनाएं देते हुए उन्हें नमन किया। उन्होंने कहा कि किसी भी व्यक्ति के जीवन में मां की भूमिका हमेशा अलग और विशेष होती है। जीवन में कई लोग आते हैं, लेकिन मां का रोल सबसे अनमोल है। हालांकि जीवनदायिनी मां को कुछ देने की सामथ्र्य किसी में भी नहीं है। इसके बावजूद वह मदर्स-डे पर हमीरपुर संसदीय क्षेत्र की मातृशक्ति के बेहतर स्वास्थ्य के लिए कुछ अलग करने का प्रयास कर रहे हैं। मौजूदा परिवेश में ब्रेस्ट कैंसर पूरे विश्व में एक जानलेवा बीमारी के रूप में अपनी जड़ें फैलाता जा रहा है। भारत भी इससे अछूता नहीं है। वर्ष 2012 में देश में 70 हजार महिलाओं को बे्रस्ट कैंसर की वजह से जान गंवानी पड़ी थी। वर्ष 2020 तक देश में इस बीमारी के मरीजों की संख्या 17 लाख होने की उम्मीद है।

  • ब्रेस्ट कैंसर की प्रारंभिक जांच अब बिलासपुर में ही संभव, मिली मशीन
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Hamirpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×