Hindi News »Himachal »Hamirpur» बगबाड़ा सभा में सामूहिक प्रोफिट घोटाला सचिव बेसरी राम निलंबित

बगबाड़ा सभा में सामूहिक प्रोफिट घोटाला सचिव बेसरी राम निलंबित

करीब तीन करोड़ की जमा पूंजी वाली बगवाड़ा स्थित सहकारी सभा में भी अब सामूहिक प्रोफिट का घाेटाला सामने आया है। इस...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 12, 2018, 02:00 AM IST

करीब तीन करोड़ की जमा पूंजी वाली बगवाड़ा स्थित सहकारी सभा में भी अब सामूहिक प्रोफिट का घाेटाला सामने आया है। इस मामले को लेकर जैसे ही जांच पूरी हुई विभाग ने संबंधित सचिव बेसरी राम को निलंबित कर दिया है। दरअसल इस सभा में जब-जब भी ऑडिट हुआ, सामूहिक प्रोफिट में गड़बड़झाला चलता रहा। कुल मिला कर 3.71 लाख के सामूहिक प्रॉफिट का यहां गबन किया है। जिला ऑडिट अधिकारी नरेंद्र शर्मा ने इस मामले की लंबी जांच की और यह गड़बड़झाला अंत में पाया गया।

इसमें पूर्व में रहे एक सेवानिवृत्त ऑडिटर की भूमिका भी बेहद संदिग्ध रही है, जिसने आखिरी बार वर्ष 2014-15 में सेवानिवृत्त होने के बाद भी इस सभा का ऑडिट किया और तब भी यह मामला इसमें संलिप्त पाया गया। अब जब नए सिरे से जांच की गई, तो इसका पूरा खुलासा हुआ है, क्योंकि वर्ष 2001 और 2002 के बाद वर्ष 2004-05 और वर्ष 2010-11 के ऑडिटों में इस गड़बड़झाले की पुष्टि हुई है। ऐसा मिली भक्त से ही होता रहा और सभा का जो सामूहिक प्रोफिट सभा के शेयर होल्डरों में बंटना था, उसी में यह गड़बड़झाला हुआ। काबिलेगौर है कि जिला ने एक के बाद एक सामूहिक प्रोफिट के मामलों के उजागर होने से इन सहकारी सभाओं के भीतर की गड़बडिय़ों का खुलासा बड़े स्तर पर होने लगा है, लेकिन अभी इस सामूहिक प्रॉफिट मामले में दो दर्जन सभाओं के संलिप्त होने की आशंका भी जताई जा रही है, क्योंकि उनके ऑडिट भी उसी ऑडिटर द्वारा किए गए है, जिनके द्वारा बड़ाग्रां और अब बगबाड़ा का किया गया था।

चार्जशीट की तैयारी

बुधवार को निलंबन को लेकर जो प्रक्रिया अपनाई गई, उसमें सहायक पंजीयक हमीरपुर के आदेशों को निरीक्षक नरेश ने प्रबंध कमेटी बगबाड़ा के सहयोग से अमलीजामा पहनाया और संबंधित सचिव को निलंबित कर दिया है, अब उनके खिलाफ चार्जशीट तैयार की जाएगी। इस सभा का सचिव का चार्ज किसी दूसरे को दिया गया है। एआरसीएस नरेंद्र शर्मा का कहना है कि सभा के सचिव बेसरी राम को निरीक्षक राजेश कुमार और प्रबंध समिति के सहयोग से निलंबित कर भारमुक्त कर दिया है। उनके निलंबन के आदेश जारी होने के बाद यह प्रक्रिया पूरी की गई।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Hamirpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×