• Hindi News
  • Himachal
  • Hamirpur
  • लॉन्ग रूटों पर जा रही बसों के कलपुर्जे नहीं हो रहे चेक, रास्ते में हो रही खराब
--Advertisement--

लॉन्ग रूटों पर जा रही बसों के कलपुर्जे नहीं हो रहे चेक, रास्ते में हो रही खराब

Dainik Bhaskar

May 18, 2018, 02:05 AM IST

Hamirpur News - अब तो हद हो गई! हिमाचल परिवहन निगम की बसों का सफर सुहाना नहीं है। रोजाना ही यात्रियों को समस्या का सामना करना पड़ रहा...

लॉन्ग रूटों पर जा रही बसों के कलपुर्जे नहीं हो रहे चेक, रास्ते में हो रही खराब
अब तो हद हो गई! हिमाचल परिवहन निगम की बसों का सफर सुहाना नहीं है। रोजाना ही यात्रियों को समस्या का सामना करना पड़ रहा है। सहीं ढंग से बसों की मेंटेनेंस न होने से रूट्स पर कब बस ब्रेक डाउन कर जाए, कुछ नहीं कहा जा सकता। आए दिन बसों के बीच रास्तों में खराब होने आत बात हो गई है। टायरों की कमी तो अब बेशक गर्मी के इस मौसम में भंय कर रूप धारण करने लगी है, लेकिन वर्कशापों में लाॅन्ग रूट्स को भेजी जा रही बसों की प्रॉपर चेंकिंग पहले ही क्यों नहीं हो पा रही या उनके कलपुर्जे समय पर क्यों नहीं बदले जा रहे? इसको लेकर भी चर्चाएं कम नहीं हैं। यात्रियों की मानें तो उन्हें कई रूट्स पर तो धक्के मारने पर भी विवश होना पड़ रहा है।

हमीरपुर से फरीदाबाद जा रही बस ऊना जिला के कक्कराणा के पास बुधवार आधी रात करीब डेढ़ बजे ब्रेक डाउन हो गई। जिस कारण यात्रियों खास कर महिला यात्रियों को बच्चों सहित दूसरी बस के लिए डेढ़ घंटे तक इंतजार करने पर विवश होना पड़ा। इस बस में यात्रा कर रहे यात्रियों शिव कुमार, प्रशोत्म चंद, रमेश सूद, प्रकाश ठाकुर, अनिता शर्मा व अशोक शर्मा सहित दूसरे यात्रियों का कहना था कि उन्हें बस के खराब होने के कारण काफी देर तक दूसरी बस के लिए इंतजार करना पड़ा। उनका कहना था कि आधी रात को महिलाओं के लिए ऐसी समस्या को गंभीर ही माना जा सकता है।

इन यात्रियों का कहना था कि जिस भी लाॅन्ग रूट पर बसों को निगम की ओर से भेजा जाता है, उनकी पहले प्रॉपर चेकिंग होनी चाहिए। यही नहीं वीरवार को भी एक बस हमीरपुर से नादौन के पास ब्रेक डाउन हो गई। वहीं एक दिन पहले ही हमीरपुर से कक्कड़ बस भी संधोल के पास भारी धुआं छोड़ने के बाद खड़ी हो गई। राजेश भारद्धाज, विपिन कटोच, रमन कुमार सहित दूसरे यात्रियों का कहना था कि जब बस खराब हो रही थी तो कई जगह पर तो उन्हें धक्के मारने पर भी विवश होना पड़ा।

यह बस दिल्ली के लिए भी रवाना होनी थी लेकिन फिर एक घंटे के बाद दूसरी बस को भेज कर यात्रियों को गंतव्य तक पहुंचाया गया। एक अन्य बस जो लॉन्ग रूट पर जा रही थी, बीते रोज ही उसका भी रास्ते में रूट के दौरान स्टेरिंग बॉक्स में समस्या आने से यात्रियों को खामियाजा भुगतना पड़ा। यह बस सरकाघाट से लुधियाणा के लिए जा रही थी। हालांकि निगम के अधिकारी कलपुर्जों की कमी पर कुछ कहने को तैयार नहीं हैं, लेकिन जिस तरह से निगम की बसों के रास्तों में रूट्स के दौरान ब्रेक डाउन होने का क्रम तेजी पकड़ गया है, उससे कलपुर्जों की कमी को लेकर जरूर सवाल उठ रहे हैं। निगम के पास पहले ही टायरों की कमी बेहद भंय कर रूप से चल रही है, रिमोल्ड टायरों की सप्लाई ठप पड़ी हुई है। वर्कशाप में रिपेयर को पहुंच रही बसों की वहां खड़े रहने की तादाद को देख कर जरूर कलपुर्जों की कमी बयान कर रही है।

हमीरपुर से दिल्ली-फरीदाबाद बस संधोल के पास खराब होने से यात्री परेशान।

गर्मियों में टायरों की कमी, गंभीर मामला

हिमाचल परिवहन मजदूर संघ के राज्य उपाध्यक्ष सुभाष वर्मा का कहना है कि गर्मियों के मौसम में बसों के लिए टायरों की कमी एक गंभीर मामला है। क्योंकि कई बार रूट्स पर टायर फट सकता है। बसें यात्रियों से भरी होती हैं, जिस कारण यह मामला काफी संवेदनशील हो सकता है। अधिकारियों से संघ की ओर से भी टायरों को शीघ्र उपलब्ध करवाने और बसों में कलपुर्जों को समय पर बदलवाने के मांग को उठाया जा चुका है। कलपुर्जों की कमी के कारण बसें रास्तों में ही खराब हो सकती है।


X
लॉन्ग रूटों पर जा रही बसों के कलपुर्जे नहीं हो रहे चेक, रास्ते में हो रही खराब
Astrology

Recommended

Click to listen..