Hindi News »Himachal »Shimla» Five Year Old Child Suffring Tumor

आपकी मदद से बच सकती है साढ़े 5 साल अर्पित की जिंदगी

बेलापंचायतके वार्ड-5 के साढ़े पांच वर्षीय अर्पित के पेट में गंभीर रोग होने से परिवार पर दु:खों का पहाड़ टूट पड़ा है।

Bhaskar news | Last Modified - Nov 17, 2017, 09:04 AM IST

आपकी मदद से बच सकती है साढ़े 5 साल अर्पित की जिंदगी

शिमला। बेलापंचायतके वार्ड-5 के साढ़े पांच वर्षीय अर्पित के पेट में गंभीर रोग होने से परिवार पर दु:खों का पहाड़ टूट पड़ा है। अर्पित पिछले चार माह से पीजीआई चंडीगढ़ में उपचाराधीन है। इस समय परिजनों के सामने यही सवाल है कि नन्हें अर्पित की जान को कैसे बचाया जाए। परिजनों ने बताया कि जो कुछ उनके पास था वो पहले ही इलाज पर खत्म हो चुका है। इस बच्चे की जिंदगी अब दुआओं से ज्यादा दानियों की सहायता पर टिकी हुई है। बेहद गरीब परिवार से संंबंध रखने वाले अर्पित के पिता सुनील कुमार माता सपना ने बताया कि करीब पांच महीने पहले जब बच्चे को पेट दर्द हुआ तो परिजनों ने इसे स्थानीय अस्पतालों में दिखाया, लेकिन जब इसकी हालत ज्यादा खराब हुई तो इसे चंडीगढ़ ले जाया गया, जहां पर डाॅक्टरों ने बताया कि अर्पित के पेट में ट्यूमर है।

डॉक्टरों ने लगतार 6: माह तक इसे अपनी निगरानी में रखने को कहा, जिसके लिए काफी पैसे की जरूरत है। मेहनत-मजदूरी करके गुजर-बसर करने वाले इस गरीब परिवार को इलाज करवाने में कई दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। सुनील ने बताया कि परिवार की आर्थिक स्थिति इतनी मजबूत नहीं है कि अपने बच्चे का इलाज करवा सके। उन्होंने अब लोगों के सहयोग से ही अर्पित की जिंदगी बच सकती है। इस समय इसे इलाज की सख्त जरूरत है। हालांकि बच्चे के स्कूल, ग्रामीणों और परिजनों ने मदद की है, पंरतु उसके इलाज के लिए अभी और धन की जरूरत है।


यहां दे सकते है सहायता राशि
उन्होंनेकहा कि मदद करने वाले सुनील कुमार के पिता के 098154-96163 नंबर पर संपर्क कर सकते हैं या नादौन के सेंट्रल बैंक में बच्चे के खाता नंबर 3278581134 में अार्थिक सहायता दे सकते हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Shimla News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: aapki mdd se bch skti hai saaढ़e 5 saal arpit ki jindgai
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Shimla

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×