• Hindi News
  • Himachal Pradesh News
  • Kullu News
  • बाशिंग के ग्रामीणों को निजी बस ऑपरेटर बस में नहीं बिठाते, अारटीओ से शिकायत
--Advertisement--

बाशिंग के ग्रामीणों को निजी बस ऑपरेटर बस में नहीं बिठाते, अारटीओ से शिकायत

हिमाचल किसान सभा के बैनर तले बाशिंग गांव के दर्जनों ग्रामीणों ने आरटीओ कुल्लू सुरेश जसवाल को निजी बस ऑपरेटरों के...

Dainik Bhaskar

May 03, 2018, 02:00 AM IST
बाशिंग के ग्रामीणों को निजी बस ऑपरेटर बस में नहीं बिठाते, अारटीओ से शिकायत
हिमाचल किसान सभा के बैनर तले बाशिंग गांव के दर्जनों ग्रामीणों ने आरटीओ कुल्लू सुरेश जसवाल को निजी बस ऑपरेटरों के खिलाफ शिकायत पत्रा सौंपा। शिकायत पत्र में ग्रामीणों ने निजी बस ऑपरेटरों के खिलाफ कंडक्टर की मनमानी करने का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि निजी बस ऑपरेटरों के कंडक्टर बाशिंग गांव के ग्रामीणों को बस में नहीं बैठाते जिसके कारण बाशिंग गांव के लोगों को यातायात के लिए परेशानी का सामना करना पड़ रहा है और खासकर स्टूडेंट्स को। कई बार ग्रामीण महिलाओं को बस से बाहर निकाल कर प्रताड़ित किया जा चुका है।

ग्रामीणों ने आरटीओ से आग्रह किया है कि निजी बस ऑपरेटरों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए नहीं तो आंदोलन कर चक्का जाम किया जाएगा। किसान सभा के राज्य संयुक्त सचिव होतम सिंह सौंखला ने बताया लंबे समय से निजी बस ऑपरेटर बाशिंग गांव के लोगों को बस में नहीं बैठा रहे हैं जिससे ग्रामीणों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि निजी बस ऑपरेटरों की मनमानी के खिलाफ आरटीओ कुल्लू को ज्ञापन सौंपा है ताकि वक्त रहते इन बस ऑपरेटरों पर उचित कार्रवाई की जाए ताकि ग्रामीण जनता को परेशानी का सामना ना करना पड़े। उन्होंने कहा कि प्रशासन अगर इस पर कोई उचित कार्रवाई नहीं करेगा तो जन आंदोलन किया जाएगा और चक्का जाम कर ग्रामीणों आरटीओ कार्यालय का घेराव भी करेंगे।

स्थानीय निवासी लाल चंद ने बताया कि निजी ऑपरेटरों की मनमानी के खिलाफ आरटीओ कुल्लू को शिकायत पत्र सौंपा है जिससे बाशिंग गांव के ग्रामीणों को बस में नहीं बैठने दिया जा रहा है जिससे बुजुर्गों, महिलाओं व बच्चों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने बताया कि स्कूली छात्रों को मानसिक रूप से प्रताड़ना हो रही है जिससे ग्रामीणों ने प्रशासन से उचित कार्रवाई की मांग की है। उनका कहना है कि कई बार कुल्लू बस अड्डे से वाशिंग जाने वाली महिलाओं और बच्चों को कंडक्टर बसों से बाहर निकाल चुके हैं और प्रताड़ित कर चुके हैं।

उधर, आरटीओ सुरेश जसवाल ने ग्रामीणों को उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया और कहा कि निजी बस ऑपरेटरों की मनमानी के खिलाफ उचित कार्रवाई की जाएगी और यातायात नियमों का पालन न करने पर दंडित किया जाएगा।


बाशिंग गांव के ग्रामीणों ने आरटीओं को निजी बस ऑपरेटरों के खिलाफ शिकायत पत्र सौंपा।


X
बाशिंग के ग्रामीणों को निजी बस ऑपरेटर बस में नहीं बिठाते, अारटीओ से शिकायत
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..