Hindi News »Himachal »Manali» सरकाघाट में एनएच पर पेड़ गिरने से डेढ़ घंटे जाम

सरकाघाट में एनएच पर पेड़ गिरने से डेढ़ घंटे जाम

सरकाघाट | नेशनल हाईवे जालंधर मनाली पर पेड़ गिरने से डेढ़ घंटा जाम लगा रहा। बुधवार दोपहर को हुई तेज बारिश व तूफान से...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 03, 2018, 02:05 AM IST

सरकाघाट में एनएच पर पेड़ गिरने से डेढ़ घंटे जाम
सरकाघाट | नेशनल हाईवे जालंधर मनाली पर पेड़ गिरने से डेढ़ घंटा जाम लगा रहा। बुधवार दोपहर को हुई तेज बारिश व तूफान से कृषि विभाग के ऑफिस और स्कूल गेट के सामने आम का एक भारी पेड़ गिर गया। पेड़ गिरने से वहां पर टैक्सी यूनियन की दो कारें इसकी चपेट में आ गई। करीब डेढ़ घंटे की मशक्कत बाद नेशनल हाईवे को खोला जा सका। इस दौरान स्कूली बच्चों से लेकर हाईवे पर आने जाने वाली सैकड़ों गाड़ियां जाम में फंसी रही। प्रत्यक्षदर्शी अश्विनी गुलेरिया व सधोट पंचायत के पूर्व प्रधान जितेंद्र कुमार ने बताया कि जब यह पेड़ गिरा तो उसी दौरान स्कूल के गेट से 5 लड़कियां जा रही थी। कुछ सेकंड पहले ही यह पेड़ गिर गया। अगर इस दौरान कोई भी राहगीर वहां से गुजर रहा होता तो हादसे का शिकार हो जाता। भारी बारिश के चलते कृषि विभाग से लेकर टीहरा मोड़ तक हाईवे उस दौरान खाली था। पेड़ गिरने बाद दोनों तरफ वाहनों की कतारें लगी रही। सहायक अभियंता प्रकाश चंद ठाकुर की अगुवाई में जेसीबी लगाकर इस पेड़ को हटा दिया गया। पेड़ हटाने के बाद भी करीब आधा घंटा तक सरकाघाट बाजार में लंबा जाम लगा रहा। प्रशासन की ओर से वरिष्ठ सहायक अश्वनी शर्मा ने घटनास्थल का दौरा करके नुकसान की रिपोर्ट प्रशासन को भेज दी है। शहर में बिजली आपूर्ति बहाल नहीं हो पाई थी।

नेशनल हाईवे पर गिरा पेड़। इस पेड़ के नीचे दो कारें भी दब गई है। पेड़ गिरने से शहर में घंटों तक जाम लगा रहा।

नादौन में भारी बारिश से 13 दाेपहिया वाहन बहे, फसलों को भी नुकसान

सिटी रिपोर्टर | नादौन

नादौन उपमंडल में बुधवार को भारी बारिश, तूफान के साथ ओले भी पड़े। जिसके चलते कई दुकानों पानी घुस गया। कई कच्चे मकानों की छत्तें भी उखड़ गई। फलस्वरूप जनजीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त हो गया। लोगों का कहना है कि काफी समय बाद कुछ ही समय में इतनी बारिश हुई है। करीब एक घंटे तक इतनी बरसात हुई कि नादौन के साथ लगते सभी गांव के संपर्क मार्ग बंद हो गए और यातायात पूरी तरह से थम गया। नादौन के मुख्य बाजार में अचानक आए पानी के कारण बाजार में खड़े 13 दोपहिया वाहन बह गए, जो कि ब्यास नदी में पहुंचने से पूर्व चौगला बाजार में लगे एक बिजली के पोल मेें एक-एक करके अटक गए।

दुकानों में घुसा पानी |इतना ही नहीं नादौन के बस अड्डा सहित बाजारों में कोई भी दुकान ऐसी नहीं बची है, जिसमें पानी नहीं घुसा हो। इस पानी के कारण दुकानदारों का काफी नुकसान हुआ है। नादौन बस अड्डा के बाहर से लेकर ब्यास पुल तक एनएच पर काफी मात्रा में पानी जमा हो गया, जिससे यातायात बुरी तरह से प्रभावित हुआ। वहीं एनएच किनारे बनी सीवरेज बंद पड़े होने के कारण इन दुकानों के बाहर भी काफी पानी जमा हो गया, जिसे दुकानदारों ने स्वयं मेहनत करके साफ किया। इस बारिश के कारण किसानों को भी भारी नुकसान हुआ है। काटी गई गेहूं की फसल पूरी तरह से बर्बाद हो गई है। नादौन क्षेत्र के सभी संपर्क मार्गों पर पेड़ आदि गिरने से काफी समय तक कई मार्ग बंद रहे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Manali

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×