Hindi News »Himachal »Nadaun» नादौन में यातायात में बाधा डाल रहे निजी बस चालक

नादौन में यातायात में बाधा डाल रहे निजी बस चालक

नादौन शहर से गुजरते राष्ट्रीय राजमार्ग पर यातायात व्यवस्था को बिगाड़ने में प्राइवेट व सरकारी बस ऑपरेटर को...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 23, 2018, 02:05 AM IST

नादौन शहर से गुजरते राष्ट्रीय राजमार्ग पर यातायात व्यवस्था को बिगाड़ने में प्राइवेट व सरकारी बस ऑपरेटर को जिम्मेदार ठहराया जाए, तो कोई भी हैरानी की बात नहीं होगी। हालांकि मामला आईडल पार्किंग का बनता है, मगर यह रोजाना इसकी अवहेलना करने से कोई गुरेज नहीं कर रहे ।

इन राष्ट्रीय राजमार्गों के किनारे पर स्थित बस स्टैंड पर रोजाना सैकड़ों प्राइवेट व सरकारी बसों की आवाजाही होती है, मगर सरकारी व प्राइवेट बस ऑपरेटर का बस अड्‌डे के मुख्य निकासी द्वार से निकलते ही बसें खड़ी करने का सिलसिला शुरू हो जाता है ।

बस स्टैंड के साथ ही सड़क मार्ग पर बस को खड़ी करके सवारियों को बैठाना इनकी दिनचर्या में शामिल हो गया है, ज्वालामुखी, हमीरपुर और चंडीगढ़ की ओर जाने वाली अधिकांश सरकारी व निजी बसों की ऐसी कारगुजारी के कारण शहर के इस सड़क मार्ग पर रोजाना कई बार जाम लग जाता है। इतना ही नहीं चलती बस का पिछला दरवाजा खुला रख कर विभिन्न बसों के परिचालक दुर्घटनाओं को न्यौता दे रहे हैं । उधर, ट्रैफिक पुलिस के अलावा अन्य पुलिस कर्मियों ने यातायात व्यवस्था को चुस्त दुरुस्त करने में अपनी तरफ से कोई कसर नहीं छोड़ी है । मगर इन बस ऑपरेटरेां के हाल देखकर सब प्रयास धरे के धरे रह जाते हैं ।

दिल्ली-चंडीगढ़ लंबे रूट की बसें चलती हैं

गौर हो कि उक्त राष्ट्रीय राजमार्ग से होकर प्रतिदिन हजारों छोटे बड़े वाहन शिमला, चंबा,चंडीगढ़, दिल्ली सहित अन्य ग्रामीण इलाकों की ओर गुजरते हैं। इस बारे में डीएसपी हमीरपुर रेणु शर्मा ने कहा कि बस आप्रेटरों द्वारा सड़क पर इस तरह वाहन रोकना आईडल पार्किंग में आता है इसके लिए पुलिस प्रशासन द्वारा समय-समय पर चालान भी किए जाते हैं और बस स्टैंड के डयूटी कर्मचारियों को भी इस बारे में दिशा-निर्देश दे दिए गए हैं फिर भी अगर ऐसा होता पाया गया तो कठोर कार्यवाही की जाएगी ।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Nadaun

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×