--Advertisement--

बाहवा पंचायत में पेयजल को लेकर हाहाकार, आठवें दिन मिल रहा पानी

भास्कर न्यूज | रामपुर बुशहर निरमंड खंड की बाहवा पंचायत के चार गांव के हजारों लोग पेयजल किल्लत की मार से जूझ रहे...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 02:05 AM IST
भास्कर न्यूज | रामपुर बुशहर

निरमंड खंड की बाहवा पंचायत के चार गांव के हजारों लोग पेयजल किल्लत की मार से जूझ रहे हैं। जबकि आईपीएच विभाग ग्रामीणों को पर्याप्त पेयजल आपूर्ति करने में पूरी तरह से नाकाम साबित हो रहा है। ग्रामीणों को विभाग 8 दिन में एक बार पेयजल आपूर्ति दे तो रहा है वह भी 15 मिनट के लिए, ऐसे में ग्रामीणों को जीवनयापन करने में काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। आईपीएच विभाग का खामियाजा आज चार गांव के हजारों लोगों को भुगतना पड़ रहा है। इसके चलते ग्रामीणों में प्रदेश सरकार और आईपीएच विभाग के प्रति खासा रोष हैं।

पानी खरीदने को मजबूर ग्रामीण: बाहवा पंचायत के परस राम, नीरथ सिंह, लाल चंद, दौलत राम, जयशील पुजारी, बुद्धराम, किरत राम, योगराज, फूला देवी, ममता देवी, रीता देवी, आरती, कांता देवी, श्याम देवी सहित अन्य ग्रामीणों ने बताया कि वे इन दिनों 700 रुपये में 500 लीटर पानी खरीदने को मजबूर हो गए हैं।

हालांकि आईपीएच विभाग आठ दिनों के बाद पेयजल मुहैया तो करवा रहा है, लेकिन यह आपूर्ति भी मात्र 15 मिनट के लिए ही दी जा रही है। ऐसे में क्षेत्र में पेयजल के लिए हाहाकार मची हुई है। इस बारे में आईपीएच विभाग को बार बार शिकायत की गई, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो पाई है। उन्होंने प्रदेश सरकार, स्थानीय प्रशासन और आईपीएच विभाग से समय रहते ग्रामीणों को पेयजल आपूर्ति मुहैया करवाने की मांग की है। इसके चलते आज उक्त पंचायत के बाहवा, शटलधार, जडोली और चंभू गांव में वर्षों से लोग पेयजल की समस्या से जूझ रहे हैं।


पेयजल योजना का निर्माण कार्य अधर में



X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..