• Home
  • Himachal Pradesh News
  • Rampur News
  • सरकार दूध के दाम 30 रुपये लीटर कर, उत्पादकों को पहुंचाए लाभ: सभा
--Advertisement--

सरकार दूध के दाम 30 रुपये लीटर कर, उत्पादकों को पहुंचाए लाभ: सभा

हिमाचल किसान सभा ने प्रदेश सरकार से दूध के दाम 30 रुपये प्रति लीटर करने की मांग है। जबकि प्रदेश में पानी की कीमत...

Danik Bhaskar | May 13, 2018, 02:00 AM IST
हिमाचल किसान सभा ने प्रदेश सरकार से दूध के दाम 30 रुपये प्रति लीटर करने की मांग है। जबकि प्रदेश में पानी की कीमत बाजार में दूध से ज्यादा बिक रहा है, लेकिन आज तक किसानों को दूध के दाम में बढ़ोतरी नहीं की है। इसी को लेकर शनिवार को किंगल में किसान सभा की किंगल इकाई की बैठक आयोजित हुई। इसमें मुख्य रूप से दूध उत्पादों की समस्या पर चरचा की गई।

सरकार दूध उत्पादकों का कर रही अनदेखी : किसान सभा जिला महासचिव देवकी नंद ने कहा कि आज के समय में प्रदेश सरकार दूध उत्पादकों के साथ अनदेखी कर रही है। इसके चलते किसानों को दूध का दाम15 रुपये प्रति लीटर मिल रहा है, जबकि दूसरी ओर पानी को बोतल 20 रुपए बिक रहा है। किसानों द्वारा मेहनत से प्राप्त दूध की कीमत पानी की बोतल से कम है। उन्होंने कहा कि क्षेत्र के किसान आज के समय दूध पर ही निर्भर है उनके पास न रोजगार है और नहीं खेतों से कोई फायदा हो रहा है। प्रदेश सरकार समय पर दूध का दाम नहीं बढ़ाती है तो आने वाले समय पर दुग्ध उत्पादक संघ संगठित होकर संघर्ष करेंगी। अगर सरकार किसान के हितैषी है तो, दूध का कीमत 30 रुपए प्रतिलीटर किया जाए। इस के अलावा दूध की पेमेंट का भुगतान हर महीने के 10 से पहले किया जाए और गाय को दी जाने वाली फीड सार्वजनिक वितरण प्रणाली के माध्यम से सस्ते दामों पर दी जाए। बैठक में हीरानंद, राजकुमार, प्रेम चौहान, दामदास, रमेश चंद, राम सिंह, राजेंद्र ,रवि शर्मा, हीरा सिंह, राजपाल मौजूद रहे।

मांग

बैठक कर सरकार से उठाई दूध के दाम बढ़ाने की मांग

2 जून को किंगल में अधिवेशन

बैठक में निर्णय लिया गया है क्षेत्र के दूध उत्पादकों को लेकर २ जून को किंगल में दुग्ध उत्पादकों का अधिवेशन किया जाएगा। इस दौरान अधिवेशन में दूध उत्पादकों की समस्याओं चरचा और भविष्य के लिए कार्ययोजना बनाई जाएगी। सरकार के समक्ष उठाया जाएगा।