--Advertisement--

मोदी सरकार का पोल खोल अभियान 17 से 22 मई तक

भास्कर न्यूज | रामपुर बुशहर 412 मेगावट की ठेका मजदूर यूनियन ने झाकड़ी व दत्तनगर में मजदूर दिवस मनाया गया। इस मौके...

Danik Bhaskar | May 02, 2018, 02:05 AM IST
भास्कर न्यूज | रामपुर बुशहर

412 मेगावट की ठेका मजदूर यूनियन ने झाकड़ी व दत्तनगर में मजदूर दिवस मनाया गया। इस मौके ठियोग के विधायक राकेश सिंघा और बिहारी सयोगी बतौर मुख्यातिथि उपस्थित रहे। उन्होंने कहा कि मजदूरों ने जिन अधिकारों को प्राप्त करने के लिये 1 मई 1886 से संघर्ष शुरू करके अधिकार प्राप्त किये थे, उन अधिकारों पर मौजूदा पूंजीवादी शासकों द्वारा हमला किया जा रहा है। आज मजदूरों की स्थाई नौकरी की जगह फिक्स टर्म वाली नौकरी के अंदर बदला गया है, जिससे मजदूरों का शोषण और बढ़ेगा, मजदूरों के अधिकारों पर एक-एक करके हमला किया जा रहा हैं। सभी प्रकार के श्रम कानूनों को परिवर्तित करके पूंजीपतियों के पक्ष में किया जा रहा है। देश के अंदर बड़े-बड़े पूंजीपति बैंकों का पैसा गटक कर भाग गए हैं, लेकिन देश के अंदर काफी लंबे समय से जो मजदूर न्यूनतम 18000 रुपये वेतन की मांग कर रहा है, उसके लिए सरकार के पास पैसा नहीं है। आंगनबाड़ी, मिड डे मील वर्कर, आशा वर्कर व अन्य योजना कर्मियों द्वारा बड़े लंबे समय से अपनी मांगों को उठाया जा रहा है, परंतु योजना कर्मियों को अभी तक न तो मजदूर की श्रेणी में लाया गया और न ही न्यूनतम वेतन लागू किया गया है। देश की मोदी सरकार की मजदूर व किसान विरोधी नीतियों के खिलाफ आने वाली 17 मई से 22 मई तक मोदी सरकार के पोल खोल अभियान चलाया जाएगा और 23 मई को जन एकता व जन अधिकार को लेकर आंदोलन करेंगे। इस मौके पर कई मजदूर नेता मौजूद रहे।