Hindi News »Himachal »Shimla» 11 Ministers In Jairam Cabinet

जयराम कैबिनेट में 11 मंत्री, धवाला-बरागटा समेत 6 दिग्गजों को जगह नहीं

11 कैबिनेट मंत्रियों ने भी शपथ ली। छह बड़े आैर संभावित मंत्रियों को कैबिनेट में जगह नहीं मिली।

bhaskar news | Last Modified - Dec 28, 2017, 08:07 AM IST

  • जयराम कैबिनेट में 11 मंत्री, धवाला-बरागटा समेत 6 दिग्गजों को जगह नहीं

    शिमला.हिमाचल के 13वें सीएम जयराम ठाकुर को राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने बुधवार को रिज मैदान पर शपथ दिलाई। उनके साथ 11 कैबिनेट मंत्रियों ने भी शपथ ली। छह बड़े आैर संभावित मंत्रियों को कैबिनेट में जगह नहीं मिली।

    इसमें पूर्व मंत्री नरेंद्र बरागटा, रमेश धवाला, डाॅ. राजीव बिंदल, दूसरी बार विधायक बने हमीरपुर से नरेंद्र ठाकुर, चंबा से विक्रम जरयाल आैर हंसराज हैं। मंडी संसदीय क्षेत्र से तीन मंत्रियों को स्थान मिला। इस मौके पर पीएम मोदी, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह भी मौजूद रहे।

    कांगड़ा के दिग्गज नेता किशन कपूर का नाम मंत्रियों की लिस्ट में सुबह दस बजे तक नहीं था। अंतिम क्षणों में शांता के नजदीकी माने जाने वाले किशन की पैरवी पूर्व सीएम प्रेम कुमार धूमल ने की। किश्न कपूर के मंत्रिमंडल में शामिल होने के बाद अब राज्य में मंत्रियों का कोई पद खाली नहीं रहा है, हालांकि पहले जयराम ठाकुर ने एक पद खाली रखकर सभी की उम्मीद जिंदा रखने का प्रयास जरूर किया था।

    एंटी हेलगन ने बरागटा, दाल घोटाले ने धवाला का रास्ता रोका


    जुब्बल कोटखाई से विधायक नरेंद्र बरागटा और ज्वालामुखी से विधायक रमेश धवाला को कैबिनेट में जगह नहीं मिली है। ये दोनों ही धूमल सरकार में मंत्री रह चुके हैं। ऐसी चर्चा है कि पिछली सरकार में बरागटा एंटी हेलगन घोटाले को लेकर विवादों में रहे। वहीं धवाला का नाम दाल घोटाले में आया था। साथ ही बरागटा को धूमल का और रमेश धवाला को शांता कुमार का नजदीकी माना जाता है । लेकिन इन दोनाें ने ही अपने चहेतों को मंत्री बनाने के लिए उनके नाम का प्रस्ताव ही नहीं किया। वहीं शांता ने धवाला के बजाय किशन कपूर के नाम को अागे बढ़ाया और उन्हें कैबिनेट में जगह भी मिल गई। वे पिछली धूमल सरकार में भी कैबिनेट मंत्री रह चुके हैं।

    नए सीएम जयराम ठाकुर ने बुधवार को पद एवं गोपनीयता की शपथ ली। वे प्रदेश के 13वें मुख्यमंत्री हैं। उनके अलावा 11 विधायकों ने कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ली। दो विधायकों ने संस्कृत में शपथ ली और बाकियों ने हिंदी में शपथ ली। रिज मैदान स्थित टका बैंच में राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने मुख्यमंत्री और विधायकों को शपथ दिलाई।

    इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के अलावा चार कैबिनेट मंत्री और 14 राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने शिरकत कर समारोह की शोभा बढ़ाई। टका बैंच पर पहली बार शपथ ग्रहण समारोह हुआ। भाजपा समर्थकों और आम लोगों से खचाचक भरे रिज मैदान में 11 बजकर 27 मिनट पर राष्ट्रीय गान के साथ शपथ ग्रहण समारोह शुरू हुआ। मुख्य सचिव वीसी फारका ने शपथ ग्रहण की राज्यपाल आचार्य देवव्रत से अनुमति ली। 11 बजकर 28 मिनट पर राज्यपाल ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। मुख्यमंत्री के बाद महेंद्र सिंह ठाकुर, किशन कपूर, सुरेश भारद्वाज, अनिल शर्मा, सरवीण चौधरी, राम लाल मारकंडा, विपिन परमार, वीरेंद्र कंवर, विक्रम सिंह, गोविंद ठाकुर, डॉ. राजीव सहजल ने कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ग्रहण की।

    शपथ ग्रहण समारोह में पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, पूर्व उपप्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी, केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह, परिवहन मंत्री नितिन गडकरी, स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा के अतिरिक्त विभिन्न राज्यों से पहुंचे मुख्यमंत्री, उप मुख्यमंत्री साइड मंच पर बैठे जबकि मुख्यमंत्री और अन्य मंत्री मुख्य मंच पर विराजमान रहे। पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार, प्रेम कुमार धूमल भी इसी मंच पर बैठे।

    शपथ ग्रहण समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, पूर्व उपप्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी, केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह, परिवहन मंत्री नितिन गडकरी, स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा के अतिरिक्त विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्री भी पहुंचे थे।

    1. फुलएनर्जी में दिखे वरिष्ठ नेता शांता कुमार
    समारोह मेंशांता कुमार सबसे ज्यादा एनरजेटिक दिखे। वह दिल्ली के हर वीआईपी का गर्मजोशी से स्वागत कर रहे थे। केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा ने आते ही शांता के पांव छुए तो शांता ने उन्हें गले लगा लिया। पूर्व सीएम प्रेम कुमार धूमल भी इनके साथ बैठे थे, लेकिन बाते शांता आैर नड्डा ही करते दिखे।


    2. लिस्ट में नाम आते ही प्रकट हुए किशन कपूर
    पूर्वमंत्री किशन कपूर पहले नाम लिस्ट में होने के कारण समारोह से गायब दिखे। लगभग 10 बजकर 20 मिनट पर उनका नाम आने के बाद वह मंच पहुंच गए और पहले शांता से मिले। इसके बाद कूपर ने शांता आैर मंच का साथ शपथ लेने तक नहीं छोड़ा।

    3. जेआरकटवाल भी बने नेता जी
    पूर्वआईएएस अधिकारी जेआर कटवाल भी विधायक बनने के बाद शपथ ग्रहण समारोह के मंच पर पहुंचे। विधायकों के बीच पहुंचते ही जनता की आेर जेआर कटवाल ने हाथ हिलाना शुरू किया। इसके बाद सहज ही अंदाजा हो गया कि अब पूर्व आईएएस कटवाल भी नेता बन गए हंै।

    4. योगीके स्वागत में सबसे ज्यादा नारे

    यूपी के फायरब्रांड मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मंच पर पहुंचते ही उनके समर्थकों ने उनके पक्ष में नारेबाजी शुरू कर दी। योगी के समर्थक काफी समय तक उनके लिए नारेबाजी करते रहे, योगी ने भी समर्थकों की भावनाआें का पूरा ध्यान देते हुए उनके अभिवादन को स्वीकार किया।

    5. संस्कृत में शपथ के बाद मोदी ने बजाई ताली
    भाजपा सरकार के मंत्रियों ने संस्कृत में शपथ ली। शिमला के विधायक सुरेश भारद्वाज आैर मनाली के विधायक गोविंद सिंह ठाकुर ने संस्कृत में शपथ ली। राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने इन्हें शपथ दिलाई। इन दोनों ही विधायकों की शपथ को पीएम मोदी ने ध्यान से सुना आैर ताली भी बजाई।

    6. जयराम,नड्डा की पत्नी भी पहुंची शपथ में
    मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की पत्नी साधना ठाकुर आैर केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा की पत्नी मल्लिका नड्डा भी शपथ ग्रहण समारोह के दौरान साथ-साथ दिखाई दीं। जयराम ठाकुर की बेटी आैर जगत प्रकाश नड्डा का बेटा भी इस दौरान मौजूद रहेंगे। सभी आपसपास ही बैठे रहे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Shimla News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: 11 Ministers In Jairam Cabinet
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Shimla

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×