शिमला

--Advertisement--

खेल रहे बच्चों में गायब मिली बच्ची तो हुआ शक, कमरे में देखा तो मिली लाश खेतों की

7 साल की मासूम का मर्डर, गले में बंधा था कपड़ा

Danik Bhaskar

Jan 12, 2018, 07:48 AM IST

हरोली. उपमंडल के तहत पड़ते बाथड़ी स्थित बेला में सात वर्षीय प्रवासी बच्ची की हत्या किए जाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। मृतका की पहचान बिहार के खगडिया जिला निवासी ऊषा कुमारी पुत्री रघुवीर के रूप में की गई है। बच्ची का शव प्रवासी श्रमिकों ने झोंपड़ियों के साथ खेतों में बने एक कमरे से बरामद किया।

पुलिस ने मौके पर पहुंच मामले की जांच शुरू कर दी है। घटना के संबंध में हत्या का केस दर्ज कर लिया है। शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए रीजनल अस्पताल भेज दिया है। मृतका के साथ दुष्कर्म किए जाने के भी कयास लगाए रहे रहे हैं। वहीं जिस कमरे से शव बरामद किया गया है, उसमें रह रहा बिहारी युवक भी फरार बताया जा रहा है। मृतक बच्ची कमरे के पास ही स्थित प्रवासी श्रमिकों की झोंपड़ियों में अपने परिजनों के साथ रह रही थी। मिली जानकारी के मुताबिक बाथड़ी बेला में प्रवासी श्रमिकों की झोंपड़ियां हैं। वहीं, उनके साथ स्थित खेतों को पंजाब के ढेर मजारी निवासी अमरजीत सिंह ने पट्टे पर ले रखा है।

खेल रहे बच्चों में गायब मिली बच्ची तो हुआ शक, कमरे में देखा तो मिली लाश खेतों की रखवाली के लिए अमरजीत सिंह ने बिहार निवासी एक युवक को काम पर रखा है, जो इन्हीं खेतों में बने कमरे में रहता था। वीरवार दोपहर सभी प्रवासी बच्चे झोंपड़ियों के साथ सटे उक्त कमरे के बाहर खेल रहे थे। इसी दौरान एक महिला ने नोटिस किया कि उन बच्चों में ऊषा कुमारी नहीं है। इसके बाद तमाम लोगों ने उसकी तलाश शुरू कर दी। काफी देर तक बच्ची को खोजने के बाद भी जब उसका कोई सुराग न लगा, तो उन्होंने उक्त कमरा बच्ची को खोजने के लिए खोला, जहां बच्ची अंदर एक चारपाई पर मृत अवस्था में पड़ी थी, जिसके गले में एक कपड़ा भी बंधा था। डीएसपी गोपाल वर्मा ने बताया कि मामला हत्या का लग रहा है। पुलिस ने धारा 302 के तहत केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Click to listen..