Hindi News »Himachal »Shimla» Brigadiers-Wife-Makes-Dance-Performances-With-Wives-Of-Soldiers

बुजुर्ग सा दिखने वाला व्यक्ति दे गया था पर्चों के साथ 200 रुपए, खोज हुई चालू

आरोप लगाया कि उन्हें उनकी पत्नी को बदनाम करने और उनकी प्रतिष्ठा धूमिल करने के लिए ये पर्चे बांटे गए।

bhaskar news | Last Modified - Dec 04, 2017, 05:32 AM IST

  • बुजुर्ग सा दिखने वाला व्यक्ति दे गया था पर्चों के साथ 200 रुपए, खोज हुई चालू

    धर्मशाला. धर्मशाला कैंट में तैनात ब्रिगेडियर नवदीप बराड़ ने रविवार को धर्मशाला पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज कराया। आरोप लगाया कि उन्हें उनकी पत्नी को बदनाम करने और उनकी प्रतिष्ठा धूमिल करने के लिए ये पर्चे बांटे गए। उन्होंने आशंका जताई कि इसके पीछे पाक खुफिया एजेंसी आईएसआई का हाथ भी हो सकता है। इस मामले में अभी तक की जांच में दो सबूत सामने आए हैं। एक वह न्यूज एजेंसी का मालिक जिसने अखबारों में पर्चे रखे और दूसरा कचहरी बस अड्‌डे के पास लगे


    सीसीटीवी के फुटेज
    सेना के जवानों का मनोबल तोड़ने का शक जताते हुए अब केंद्रीय सुरक्षा एजेंसियाें सहित सेना पुलिस उस अज्ञात व्यक्ति को खोजने का प्रयास कर रही हैं, जिसने ये पर्चे न्यूज एजेंसी मालिक को दिए थे।

    कचहरी बस अड्‌डा के पास पंजाब नेशनल बैंक और पंजाब एंड सिंध बैंक की ब्रांच के बाहर लगे सीसीटीवी फुटेज में ये व्यक्ति दिखा है। इस व्यक्ति की उम्र करीब 60 साल के आसपास होगी। उसका चेहरा साफ नजर नहीं रहा है। उसने न्यूज एजेंसी के प्रोपराइटर को पैसे पर्चे दिए या फिर नहीं, ये स्पष्ट नहीं दिख रहा है। ये भी पता नहीं चला रहा है कि उनमें क्या बात हुई थी। -पुलिस की जांचमें खुलासा

    धर्मशाला कैंट के ब्रिगेडियर नवदीप बराड़ और उनकी पत्नी पर जवानों से बुरे बर्ताव के आरोप लगे थे। ये आरोप किसी ने सामने आकर नहीं लगाए, बल्कि बेनामी पर्चे बंटवाए गए थे। पर्चे शुक्रवार को न्यूज पेपर्स के साथ फरसेटगंज स्थित कैंट एरिया में अफसरों और अन्य लोगों के घरों तक पहुंचे। इनमें दावा किया गया था कि ब्रिगेडियर की पत्नी जवानों की पत्नियों को घर बुलाकर डांस कराती है। नई दिल्ली स्थित सेना मुख्यालय ने जांच शुरू कर दी है।

    शुक्रवार सुबह एक व्यक्ति हेलमेट पहनकर 4.30 बजे 400-500 पर्चे लेकर आया। इन्हें समाचार पत्रों में वितरित करने की बात कहते हुए उसने 200 रुपए भी दिए। इन पर्चों को 200 से अधिक न्यूज पेपर्स में रखकर कर वितरित भी कर दिया। कुछ रख लिए। इन पर्चों में क्या प्रिंट है, ये नहीं पता था। ये कंप्यूटर से तैयार किए गए पर्चे थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Shimla

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×