--Advertisement--

जनता को अकेला नहीं छोड़ सकते, एक साथ नहीं दो शिफ्टों में केरल जाएंगे पार्षद: मेयर

एक्सपोजर विजिट के लिए जो केरल दौरा प्रस्तावित है उसे एक साथ नहीं किया जाएगा।

Danik Bhaskar | Jan 18, 2018, 06:43 AM IST

शिमला. शहर की जनता की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए मेयर कुसुम सदरेट ने केरल दौरे को दो किस्तों में करने की बात कही है। मेयर कुसुम सदरेट का कहना है कि अभी शहर में बर्फबारी हो सकती है इसलिए एक्सपोजर विजिट के लिए जो केरल दौरा प्रस्तावित है उसे एक साथ नहीं किया जाएगा।

मेयर ने कहा कि सभी पार्षद यदि केरल जाना चाहतें हैं तो उन्हें दो किश्तों में केरल ले जाया जाएगा ताकि आधे पार्षद और अधिकारी शहर में रहकर लोगों की समस्याओं और सुविधाओं का ख्याल रख सकें। यदि सभी पार्षद एक साथ शहर से बाहर चले जाएंगे तो शहर में लोगों का ध्यान कौन रखेगा। मेयर ने कहा कि इस मामले में शहरी विकास विभाग से अनुमति मांगी जाएगी ताकि सभी पार्षद केरल के ही दौरे पर जा सके।

पहले हो चुका है विवाद

गौर रहे कि केरल दौरे को लेकर कुछ भाजपा के पार्षदों ने आपत्तियां जताई थी। पार्षदों ने आरोप लगाया था कि मेयर अपने चहेते पार्षदों को ही केरल दौरे पर ले जा रही हैं जबकि अन्य पार्षदों को महाराष्ट्र भेजने की चर्चाएं चली हुई थी। अब मेयर ने इन सभी चर्चाओं को विराम लगाते हुए सभी पार्षदों को केरल ही ले जाने की आश्वासन दिया है।

अब आधे, 17 पार्षद और अधिकारी ही जाएंगे दौरे पर: कुसुम

मेयर ने कहा कि अम्रुत मिशन के तहत प्रस्तावित दौरे पर केवल 17 पार्षद ही एक साथ जाएंगे इसके अलावा अधिकारियों को भी एक्सपोजर विजिट के लिए ले जाया जाएगा। शेष बचे पार्षदों को भी केरल ही भेजा जाएगा ताकि वे भी वहां पर सफाई व्यवस्था, जल वितरण प्रणाली और वहां पर निगम की कार्यप्रणाली और प्रोजेक्टों को समझ सके। उन्होंने कहा कि इस मामले में सभी पार्षदों के साथ मिलकर बात की जाएगी और पहले चरण में कौन जाएंगे और दूसरे चरण मेंं कौन से अधिकारी और पार्षद जाएंगे इसका निर्णय लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस मामले को जबरदस्ती तूल दिया गया है जबकि उनकी किसी भी पार्षद के साथ भेदभाव करने की कोई मंशा नहीं है।