--Advertisement--

सीएम शपथ शो @ रिज : सड़कों पर आज ट्रैफिक से उलझेेंगे आज, इन रास्तों का करें यूज

नेताओं के कारण मालराेड-वीआईपी रोड पर निकलना होगा मुश्किल, समर्थकों की गाड़ियां चलना भी कर देंगी मुश्किल।

Danik Bhaskar | Dec 27, 2017, 07:03 AM IST
राजधानी मंगलवार को ट्रैफिक जाम से जूझती रही। पर्यटक भी काफी संख्या में शिमला पहुंच रहे हैं वहीं मुख्यमंत्री के शपथ ग्रहण समारोह को लेकर भी सरकारी अमला यहां काफी ज्यादा है। समर्थक भी खूब पहुंच रहे हैं जिस कारण जाम की स्थिति और गंभीर हो रही है। राजधानी मंगलवार को ट्रैफिक जाम से जूझती रही। पर्यटक भी काफी संख्या में शिमला पहुंच रहे हैं वहीं मुख्यमंत्री के शपथ ग्रहण समारोह को लेकर भी सरकारी अमला यहां काफी ज्यादा है। समर्थक भी खूब पहुंच रहे हैं जिस कारण जाम की स्थिति और गंभीर हो रही है।

शिमला. पहली बार हिमाचल के मुख्यमंत्री की पारी शुरू कर रहे जयराम ठाकुर की ताजपोशी के इंतजाम तो पूरे किए जा चुके हैं लेकिन पीक पर चल रहे टूरिस्ट सीजन में सैलानियों और स्थानीय लोग बुधवार को सुबह नौ बजे से लेकर लगभग दो बजे तक नेताओं, समर्थकों और सुरक्षा के इंतजामों में डटे सुरक्षा कर्मियों के घेरे में उलझना पड़ सकता है। क्योंकि शपथ ग्रहण के बाद सभी मेहमानों का लंच भी राजभवन में रखा गया है।

प्रदेश के मुख्यमंत्री के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने आ रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत भाजपा अध्यक्ष, 13 प्रदेशों के मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्रियों के अलावा केंद्रीय मंत्री शिमला पहुंचेंगे। इन सभी मेहमानों को रिज मैदान तक लाने के लिए प्रदेश सरकार ने 325 गाड़ियों का इंतजाम किया है। 14 हेलिकॉप्टर अनाडेल में उतरेंगे तो तीन जहाज जुब्ड़हट्टी आएंगे। ऐसे में तय है कि इन सभी मेहमानों के आने जाने के वक्त शहर की वीवीअाईपी सड़कों के साथ दूसरी सड़कों पर ट्रैफिक थमेगा। लेकिन बड़ी मुश्किल प्रदेश भर से रिज मैदान पहुंचने वाले समर्थकों की गाड़ियों से होगी। क्योंकि इन गाड़ियों के शिमला पहुंचने पर जाम लग सकता है।

तारादेवी-103 टनल पर मंगलवार को ही था 2 घंटे का जाम

शपथ ग्रहण समारोह से एक दिन पहले मंगलवार को शहर में कई जगह जाम लगा। तारादेवी से 103 टनल के बीच लगभग दो घंटे जाम लगा। रेंगते-रेंगते वाहन शिमला तक पहुंचे। तारादेवी और 103 टनल के बीच सुबह साढ़े 12 से ढाई बजे तक जाम रहा। इससे लोग खासे परेशान हुए। जिनको काम से जल्द शिमला आना था, उन्हें पैदल पहुंचना पड़ा। इसके अतिरिक्त सुबह संजौली में भी जाम रहा। विक्ट्री टनल से संजौली बाइपास तक रूक-रूक कर जाम लगता रहा। जाम की वजह से अपर शिमला के लिए बसें देरी से गई। शाम के वक्त कार्ट रोड भी जाम लगा। जाम के चलते बस स्टैंड से छोटा शिमला तक पहुंचना ही मुश्किल हो गया। शिमला में इन दिनों पर्यटकों की भरमार है। क्रिसमस और न्यू ईयर सेलिब्रेशन के लिए पड़ोसी राज्यों से बड़ी संख्या में पर्यटक शिमला पहुंचेंगे। शहर में ऐसी कोई पार्किंग और होटल नहीं बचा है, जिसमें जगह बची हो। सर्कुलर रोड पर दिन में हजारों वाहन चलते हैं, ऐसे में पर्यटक वाहन एकाएक बढ़ने से जाम की स्थिति काफी गंभीर हो चुकी है।

वीवीआईपी मूवमेंट: 12 चिकित्सक प्रोटोकॉल में

आईजीएमसी प्रशासन ने वीवीआईपी मूवमेंट के लिए चिकित्सकों की ड्यूटियां लगाई है। इसमें 12 चिकित्सकों की डयूटी वीवीआईपी के साथ लगाई गई है। 4 चिकित्सक जुब्बड़हट्टी एयरपोर्ट पर तैनात रहेंगे। 4 चिकित्सक अनाडेल में तैनात होंगे। वहीं जब अनाडेल से पीएम का काफिला रिज की तरफ आएगा तो 4 चिकित्सक उस काफिले के साथ रहेंगे। अस्पताल के ब्लड बैंक में सभी प्रकार के ब्लड ग्रुप रक्त का भी इंतजाम बैंक में कर दिया है।

इन तीन जगह पर लगेगा बड़ा जाम

एंट्री प्वाइंट्स पर वाहनों के लिए पार्किंग के पुख्ता इंतजाम नहीं किए गए हैं। निचले हिमाचल से आने वाले लोगों के बड़े वाहन बालूगंज चौक पर रोक दिया जाएगा। लेकिन यहां से समरहिल सांगटी रोड पर गाड़ियों को पार्क करने की व्यवस्था की गई है। तय है कि इस तंग सड़क पर जाम लगेगा। अपर शिमला के लोगों के वाहन ढली टनल के पास रोके जाएंगे, लेकिन छोटे वाहनों को संजौली कॉलेज बाइफर्केशन तक आने दिए जाएंगे। संजौली ढली बाइपास को वन-वे किया गया है, मगर छोटे वाहनों भी इसी सड़क पर पार्क किए जाएंगे। यहां भी तय है कि जाम लगेगा। सोलन, सिरमौर के बड़े वाहन टूटीकंडी क्राॅसिंग से आगे नहीं छोड़े जाएंगे, जबकि छोटे वाहन 103 तक आने दिए जाएंगे। 103 में लोगों को छोड़ने के बाद वाहन नाभा-फागली सड़क के किनारे पार्क करने होंगे। तारादेवी से 103 के बीच वैसे ही जाम रहता है। तय है कि कच्चीघाटी से टूटीकंडी क्रॉसिंग अौर फिर 103 टनल के आसपास जाम लगेगा।

पीएम के अनाडेल से निकलने से पहले बंद होंगे रास्ते

शपथ ग्रहण समारोह में आ रहे हैं तो कम से कम एक घंटा पहले रिज पर कुर्सियां संभाल लें। शपथ ग्रहण समारोह सुबह 10 बजे शुरू होगा। ऐसे में तय है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 15 से 20 मिनट पहले अनाडेल पहुंचेंगे। पीएम मोदी के अनाडेल से निकलने से पहले समारोह स्थल पर जाने वाले सभी रास्ते बंद कर दिए जाएंगे। ऐसे में आप फिर समारोह स्थल पर पहुंच नहीं पाएंगे। सिक्योरिटी पर तैनात जवान आपको अंदर नहीं जाने देंगे। जाखू से टका बेंच, मालरोड से चर्च, मालरोड से एचपीएमसी कॉर्नर, रिज से यूएस क्लब जैसे रास्ते बंद किए जाएंगे। कार्यक्रम समापन के बाद ही ये रास्ते खुलेंगे।

यहां बंद रहेगी वाहनों की आवाजाही

कार्यक्रम के अनुसार प्रधानमंत्री का काफिला मालरोड से गुजरने के बाद शिल्ली चौक, राजभवन, रामचंद्रा चौक होकर चर्च तक पहुंचेगा। इससे इस रूट समेत यूएस क्लब पर वाहनों की आवाजाही पूरी तरह बंद रहेगी। वापसी में जब पीएम इसी रूट से शिल्ली चौक, हाईकोर्ट होकर सर्कुलर रोड उतरेंगे तो यहां भी लोगों को जाम से दो चार होना पड़ेगा। पीएम के सर्कुलर रोड पर उतरने से पहले लिफ्ट और रेलवे स्टेशन के पास वाहनों की आवाजाही बंद की जाएगी। 5 से 10 मिनट में आवाजाही रूकने से दोनों ओर लंबा जाम लगेगा।

ऐसे काफिले बढ़ाएंगे आपकी मुश्किल

मालरोड और वीआईपी सड़कें नेताओं के काफिले से जाम रहेंगी। कार्यक्रम के अनुसार प्रधानमंत्री का काफिला अनाडेल से एजी चौक और फिर सीटीओ, मालरोड, शिल्ली चौक, रामचंद्रा चौक होकर रिज तक पहुंचेगा। केंद्रीय मंत्री और राज्यों के मुख्यमंत्री इस रूट या फिर यूएस क्लब होते हुए रिज पहुंचेंगे। केंद्रीय मंत्रियों, मुख्यमंत्रियों को रिज छोड़ने के बाद उनके वाहन वीआईपी रोड के किनारे खड़े किए जाएंगे जबकि प्रधानमंत्री के काफिले में शामिल वाहन चर्च के आसपास ही खड़े रहेंगे। शपथ ग्रहण समारोह संपन्न होने के बाद प्रधानमंत्री का शिल्ली चौक से नीचे हाईकोर्ट से कार्ट रोड होकर जाने का कार्यक्रम है। सर्कुलर रोड से गुजरने के बाद काफिला विधानसभा रोड होते हुए अनाडेल पहुंचेगा। ऐसे में यूएस क्लब, मालरोड, जाखू, जोधा निवास रहने वालों के अलावा शपथ समारोह खत्म होने के बाद लिफ्ट से लेकर रेलवे स्टेशन के ऊपर अनाडेल जाने वाली बायफरकेशन पर जाम रहेगा।

प्रधानमंत्री के काफिले का ट्रायल किया गया। प्रधानमंत्री के काफिले का ट्रायल किया गया।