--Advertisement--

बीवी के होटल पर खुद हथौड़ा चलाएंगे पूर्व मंत्री ठाकुर महेंद्र, नियमों का हुआ हैं उल्लंघन

दो सप्ताह में हटाना होगा अवैध निर्माण, नहीं तो 10 लाख जुर्माना लगेगा

Dainik Bhaskar

Dec 14, 2017, 07:04 AM IST
Former minister to be himself a hammer on BBC Hotels

कुल्लू. पूर्व मंत्री एवं धर्मपुर से भाजपा विधायक महेंद्र सिंह ठाकुर अपनी बीवी के मनाली स्थित होटल पर स्वयं ही हथौड़ा चलाएंगे। एनजीटी में चल रहे मामले में पूर्व मंत्री ने अवैध निर्माण को स्वयं हटाने की बात कहीं है। महेंद्र सिंह के अवैध निर्माण को खुद रिमूव करने की बात कहने के बाद इस शर्त पर एनजीटी ने केस को डिस्पोज कर दिया है कि वे इस निर्माण को दो हफ्ते के भीतर हटा देंगे।

महेंद्र सिंह ठाकुर ने एनजीटी को विश्वास दिलाया है कि जो अब तक की डिमार्केशन में जितना भी होटल का हिस्सा अवैध निकला है, इसके साथ-साथ सेटलमेंट विभाग द्वारा की जाने वाली डिमार्केशन में भी जितना क्षेत्र और भी अवैध पाया जाएगा उसे वह स्वयं हटाएंगे।
अजय मरवाह स्टेंडिंग काउंसिल प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड हिमाचल ने बताया कि महेंद्र सिंह ठाकुर ने एनजीटी में यह भी बात कहीं है कि उनके होटल के आसपास जितनी भी सरकारी भूमि लगती है उसे वे डवलप करेंगे ओर 1 हजार पेड़ भी लगाएंगे।


एनजीटी ने इस मामले में एसडीएम मनाली को निगरानी करने को कहा है। दो हफ्तों में इसकी रिपोर्ट सौंपने के भी अादेश दिए हैं। एनजीटी की बैंच ने कहा है कि यदि वे दो हफ्तों के भीतर अवैध निर्माण को नहीं हटाते हैं तो ऐसे में होटल के मालिक पर 10 लाख रुपए का जुर्माना लगाया जाएगा।


इसका किया उल्लंघन : पूर्व मंत्री की बीवी के इस होटल निर्माण में टीसीपी के नियमों को ताक पर रखा गया है। जिनती मंजिल निर्माण के लिए टीसीपी से अनुमति मांगी गई थी, निर्माण उससे कहीं अधिक किया गया है। यहां तक कि टीसीपी विभाग के नक्शे में जहां पार्किंग दर्शाई गई है वहां भी रिहायश का निर्माण किया गया है।


एसडीएम व होटल मालिक को किया था तलब

इस मामले को लेकर एसडीएम मनाली और होटल के मालिक को व्यक्तिगत रूप से पहले पांच दिसंबर को दिल्ली तलब किया था। इसके बाद 7 को डिमार्केशन के आदेश दिए थे। उसके बाद शुक्रवार को फिर से एनजीटी में इसकी रिपोर्ट तलब की थी। शुक्रवार को एनजीटी ने केस को खुद कब्जा हटाने की बात मंत्री की आेर से कहने के बाद डिस्पोज किया है। हालांकि शुक्रवार को सेटलमेंट विभाग ने भी होटल की बारीकी से डिमार्केशन की है।

मनाली में पत्नी के नाम पर है होटल

पर्यटन नगरी मनाली में आलूग्राउंड और 18 मील के बीच बने पूर्व मंत्री एवं धर्मपुर के विधायक महेंद्र सिंह ठाकुर की पत्नी के इस होटल निर्माण में टीसीपी के नियमों को ताक पर रखा गया है। टीसीपी से जितनी मंजूरी ली थी, यहां पर इससे अधिक निर्माण पाया गया।

X
Former minister to be himself a hammer on BBC Hotels
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..