Hindi News »Himachal »Shimla» Himachali Apparel Photographer

सैलानियों को रोहतांग में मिलेगा हिमाचली परिधान फोटोग्राफर, एनजीटी ने दी मंजूरी

250 फोटोग्राफी के काम से जुड़े लोगों को लाइसेंस देने के लिए रिव्यू करने के आदेश डीसी कुल्लू को दिए हैं।

bhaskar news | Last Modified - Dec 03, 2017, 05:45 AM IST

  • सैलानियों को रोहतांग में मिलेगा हिमाचली परिधान फोटोग्राफर, एनजीटी ने दी मंजूरी
    फाइल फोटो

    शिमला. रोहतांग जाने वाले सैलानी हिमाचली परिधान पहन सकेंगे, इसके साथ ही फोटो भी प्रोफेशनल फोटोग्राफरों से खिंचवा सकेंगे। नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने अपने एक फैसले में रोहतांग में 350 लोगों को ड्रैस आैर फोटो ग्राफी का काम करने को मंजूरी दी है। एनजीटी ने 100 ड्रैस का काम करने वालों आैर 250 फोटोग्राफी के काम से जुड़े लोगों को लाइसेंस देने के लिए रिव्यू करने के आदेश डीसी कुल्लू को दिए हैं।

    डीसी कुल्लू इस मसले पर शीघ्र ही फैसला लेगा और इसके लिए कितनी लाइसेंस फीस ली जाए आैर किन लोगों को लाइसेंस दिए जाए। हालांकि एनजीटी ने अपने फैसले में ही साफ किया है कि पलचान क्षेत्र के लोगों को ही इस काम के लिए लाइसेंस दिए जाने हैं। इस क्षेत्र के लोगों के साथ जो लोग इस काम में लंबे समय से जुड़े रहे हैं, उन्हें ही लाइसेंस दिया जाना है। इन्हें स्थान देने के लिए डीसी को शीघ्र ही स्थल चिंहित करने होंगे।

    गुलाबा में करना होगा ग्रीन मार्केट का निर्माण
    गुलाबामें ग्रीन मार्केट का निर्माण करना होगा। मढ़ी के 25 प्रभावित लोगों या कारोबारियों को इनमें बसाने के लिए काम करना होगा। अगले साल तक प्रशासन को यह काम पूरा करना होगा। इसके लिए एनजीटी ने प्रशासन को निर्देश जारी किए हैं। अब यहां पर आने वाले सैलानियों को भी हिमाचली परिधान पहनने के साथ-साथ प्रोफेशनल फोटोग्राफर भी मिलेंगे।

    वाहनों की संख्या में कोई छूट नहीं
    नेशनलग्रीन ट्रिब्यूनल के फैसले में रोजाना रोहतांग जाने वाले वाहनों की संख्या बढ़ाने के लिए छूट देने का मामला भी था लेकिन इसमें कोई छूट नहीं दी है। हालांकि याचिकाकर्ताआें ने इनकी संख्या में बढ़ोतरी के निर्देश जारी किए थे। बूट कारोबार एसोसिएशन के सचिव संदीप का कहना है कि इस फैसले से उन ड्रैस कारोबारियों को राहत मिलेगी जिनकी दुकानें बंद हो गई थी।

    इलेक्ट्रोनिक बसें चलानी होगी
    रोहतांगके लिए सरकार को इलेक्ट्रोनिक बसें चलाए रखनी होगी। जितने भी स्टाॅल बनेंगे उन्हें सोलर ऊर्जा से ही रोशन करना होगा। दूसरी ऊर्जा का इस्तेमाल नहीं होगा। फोटो एसोसिएशन के अध्यक्ष दुर्गादत्त का कहना है कि फोटोग्राफरों में इस फैसले को लेकर खुशी का माहौल है। इस फैसले ने खोया हुआ कारोबार फिर से मुहैया करवाया है।

    लाइसेंस फीस की आय से इस क्षेत्र का करना होगा सुधार
    इसमें लाइसेंस फीस से होने वाली आय से रोहतांग में पर्यावरण को कैसे बेहतर बनाया जा सकता है इस पर खर्च करना होगा। मूल रूप से सैलानी यहां पहुंच कर गंदगी फैलाए, कूड़ादान लगाने से लेकर शौलाचयों तक के निर्माण पर खर्च करना अनिवार्य किया है। इस पूरे काम को माॅनिटर करने के लिए कमेटी का निर्माण करना होगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Shimla

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×