--Advertisement--

ढ़ूंढ़ने पर भी नहीं मिल रहा ये शक्स, बोला था कांग्रेस हारी तो कटवा दूंगा मूंछें

रिटायर प्रोजेक्ट ऑफिसर की मूंछ समय-समय पर दाव पर लगती हैं।

Danik Bhaskar | Dec 20, 2017, 07:57 AM IST
मुछों पर शर्त लगाने वाले केएस प्रेमी। मुछों पर शर्त लगाने वाले केएस प्रेमी।

मंडी. चुनावों में हार जीत पर अपनी मूंछों को दाव पर लगाकर चर्चा में आने वाले केएस प्रेमी की मूंछ इस बार हार गई है। चंपा ठाकुर के चुनाव हारने के बाद मूंछ दाव पर लगाने का दावा लगाने वाले प्रेमी किसी को ढूंढे नहीं मिल रहे हैं। लोकसभा हो या विधानसभा चुनाव वरिष्ठ नागरिक व सेवानिवृत्त प्रोजेक्ट ऑफिसर केएस प्रेमी की मूंछ समय-समय पर दाव पर लगती रही है।

कांग्रेस की जीत पर लगाया था दांव

विधानसभा चुनाव-2017 में भी वरिष्ठ नागरिक केएस प्रेमी ने अपनी मूंछ दाव पर लगाई थी। इस मर्तबा उन्होंने कांग्रेस प्रत्याशी चंपा ठाकुर की जीत पर अपनी मूंछ दाव पर लगाई थी। केएस प्रेमी का दावा था कि पूर्व में नौ मर्तबा अपनी मूंछ को दाव पर लगा चुके है और सभी नौ चुनावों में उनकी मूंछ की लाज बची रही। महिला सशक्तिकरण को देखते हुए केएस प्रेमी ने मूंछ दाव पर लगाते हुए बताया था कि यदि चंपा ठाकुर चुनाव हार जाती है तो वह अपनी मूंछ कटवा देंगे। इससे पूर्व रानी प्रतिभा सिंह, महेश्वर सिंह, पंडित सुखराम, अनिल शर्मा, प्रकाश चौधरी, जयराम ठाकुर, कौल सिंह व महेंद्र सिंह के चुनावों को लेकर अपनी मूंछ दाव पर लगा चुके है। जब भी उनके मूंछ दाव पर लगी है, तो मतदाताओं ने अपनी मूंछ की लाज रखी है जो आज तक बची हुई थी। लेकिन विधान सभा चुनाव-2017 में केएस प्रेमी अपनी मूंछों को दाव पर लगने से नहीं बचा सके।