Hindi News »Himachal »Shimla» MLA Slaps The Female Constable

विधायक ने मारा महिला कांस्टेबल को थप्पड़, जवाब में वापस मिला थप्पड़

कांग्रेस मुख्यालय के गेट पर पास दिखाने को लेकर हुआ था विवाद

bhaskar news | Last Modified - Dec 30, 2017, 07:31 AM IST

  • विधायक ने मारा महिला कांस्टेबल को थप्पड़, जवाब में वापस मिला थप्पड़
    +1और स्लाइड देखें
    थप्पड़ मारते हुए विधायक आशा।

    शिमला.कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी हार की समीक्षा करने के लिए कशुक्रवार को हिमाचल में थे। उनकी बैठक में जाने के लिए पास दिखाने को लेकर डलहौजी की विधायक आशा कुमारी का एक महिला पुलिस कांस्टेबल से विवाद हो गया। विधायक ने महिला कांस्टेबल को थप्पड़ मार दिया। महिला पुलिसकर्मी ने भी उन्हें पलटकर थप्पड़ जड़ दिया। मामला राहुल तक पहुंचा तो उन्होंने विधायक से माफी मंगवाई। महिला कांस्टेबल की शिकायत पर केस दर्ज हुआ है।


    राहुल कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में मीटिंग ले रहे थे। गेट पर युवा कांग्रेस के कार्यकर्ता नारेबाजी कर अंदर जाने का प्रयास कर रहे थे। इसी दौरान विधायक आशा कुमारी, मुकेश अग्निहोत्री और कर्नल धनीराम शांडिल अंदर जाने लगे। महिला कांस्टेबल ने उनसे पास मांगा तो आशा उससे भिड़ गई।

    दोनों में तीखी नोकझोंक हुई। विधायक आशा कुमारी ने गुस्से में महिला कांस्टेबल को थप्पड़ जड़ दिया। इसके जवाब में महिला कांस्टेबल ने भी उनके गाल पर थप्पड़ जड़ दिया। इसके बाद पुलिस कर्मी महिला कांस्टेबल को किनारे ले गए। विधायक धनीराम शांडिल और मुकेश अग्निहोत्री ने किसी तरह मामला शांत करवाया। महिला कांस्टेबल की तरफ से सदर पुलिस थाने में विधायक आशा कुमारी के खिलाफ केस दर्ज कराया गया है।

    परफॉर्मेंस का ख्याल जरूरी...
    नए चेहरों को अहम मंत्रालय दिए गए हैं तो सीनियर मंत्रियों के पास अभी बड़े प्रोफाइल के मंत्रालय नहीं आए हैं। ऐसे में ये विकल्प खुले रखे गए हैं कि जिनका परफॉर्मेंस बेहतर होगा, उन्हें और मंत्रालय दिए जा सकते हैं।

    राहुल ने मंगवाई माफी, बोले- हम गांधीवादी हैं

    मामला पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी तक पहुंचा तो उन्होंने बैठक में विधायक आशा कुमारी की जमकर क्लास ली। उन्होंने कहा कि कांग्रेस गांधीवादी विचारधारा है। हिंसा हमारा कल्चर नहीं है। पार्टी में इस तरह की घटना बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि गुस्से को प्यार से खत्म करना ही कांग्रेस की विचारधारा है। आज जो हुआ, वह भविष्य में नहीं होना चाहिए। पार्टी के कार्यकर्ताओं को इस बात का ध्यान देना रखना चाहिए कि किसी की भावनाओं को ठेस न पहुंचे।

    अव्यवस्था के कारण हुआ, मंशा नहीं थी: आशा

    हमें खेद है। ऐसी मंशा नहीं थी। ऐसा अव्यवस्था के कारण हुआ। मैंने पुलिस कर्मी को पास दिखाकर अंदर जाने की बात कही थी। लेकिन उसने बदसलूकी की। अगर गेट पर पार्टी और पुलिस की व्यवस्था ठीक होती तो ऐसा नहीं होता। मुझे इस घटना पर दुख है। मैं पुलिस कर्मी से माफी मांगती हूं। -आशा कुमारी, विधायक, डलहौजी

  • विधायक ने मारा महिला कांस्टेबल को थप्पड़, जवाब में वापस मिला थप्पड़
    +1और स्लाइड देखें
    पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Shimla

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×