--Advertisement--

परिवहन निगम की चलती बस पर गिरा पत्थर, पैसेंजर की सीट पर बैठे-बैठे मौत

मृतक की पहचान मोहर सिंह पुत्र चुनी लाल (60) निवासी टिप्पल के रूप में हुई है।

Danik Bhaskar | Mar 23, 2018, 06:57 AM IST
खिड़की तोड़कर पत्थर सीधा अंदर गिरा। खिड़की तोड़कर पत्थर सीधा अंदर गिरा।

आनी. रामपुर से कुल्लू की ओर जा रही एचआरटीसी की चलती बस पर वीरवार को पहाड़ी से पत्थर गिरने से उसमें सवार एक यात्री की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि बस में सवार बाकी सभी सवारियां सुरक्षित हैं। डीएसपी आनी रोहित मृगपुरी ने मामले की पुष्टि करते हुए बताया कि घटना सुबह करीब साढ़े 11 बजे की है। पुलिस घटना की सूचना मिलते ही तुरंत मौके पर पहुंच गई और मामला दर्ज कर शव को कब्जे में ले लिया ।

मृतक की पहचान मोहर सिंह पुत्र चुनी लाल (60) निवासी टिप्पल के रूप में हुई है। वहीं, मौके से गुजर रहे विद्यायक किशोरी लाल सागर ने रुक कर घटना का जायजा लिया। उन्होंने और मृतक के परिजनों को 20 हजार रुपयों की सरकारी फौरी राहत प्रदान करते हुए घटना पर गहरा दुख प्रकट किया, जबकि पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवाकर शव को परिजनों को सौंप दिया है।

लुहरी पहुंचने पर सवारियों ने भोजन किया

वहीं, बस में सवार आनी की बखनाओं पंचायत के डिम गांव के प्रदीप ठाकुर ने बताया कि बस रामपुर से सुबह पौने 10 बजे कुल्लू की ओर चली थी। लुहरी पहुंचने पर सवारियों ने भोजन किया और बस अभी लुहरी से करीब 800 मीटर ही दूर पहुंची थी कि अचानक एक धमाका सा सुनाई दिया, देखा तो पाया कि एक पत्थर अचानक पहाड़ी से आया और खिड़की के शीशा तोड़कर सीधा अंदर घुस गया और सीट पर बैठे आनी की जाबन पंचायत के टिप्पल गांव के मोहर सिंह के सिर पर जा लगा और मौके पर ही दम तोड़ दिया।

वह साथ वाली सीट पर बैठा था, खिड़की वाली साइड चला गया, पत्थर सीधा आकर उसपर गिरा

प्रदीप के अनुसार मौत से ठीक पहले साथ वाली सीट पर बैठे थे, जबकि लुहरी से बस चलने पर उन्होंने सीट बदली थी। प्रदीप ने बताया कि धमाका होने पर बस में पीछे बैठी सवारियों ने बस को भगाने को कहा, ताकि पहाड़ी से आ रहे पत्थरों से जान बचाई जा सके। लेकिन तभी मोहर सिंह के साथ बैठे लोगों ने कहा कि बस रोको पत्थर की चोट से व्यक्ति बुरी तरह से घायल है। रोकने पर जब देखा गया तो पाया कि मोहर सिंह दम तोड़ चुका है। जिसकी सूचना पुलिस को दी गई।

बस में सीट पर मृत पैसेंजर। बस में सीट पर मृत पैसेंजर।