Hindi News »Himachal »Shimla» Prisoners Absconded From Jail

जेल में सारे कैदी करते थे पूजा, उस समय इस ट्रिक से काटी सलाखें और हुए फरार

कैदी एक हफ्ते से सलाखों को ब्लेड से थोड़ा-थोड़ा काटते आ रहे थे।

Bhaskar News | Last Modified - Dec 10, 2017, 12:34 AM IST

  • जेल में सारे कैदी करते थे पूजा, उस समय इस ट्रिक से काटी सलाखें और हुए फरार
    +9और स्लाइड देखें
    पुलिस आरोपियों को पकड़कर लाती हुई।

    शिमला.कैदियों ने जेल से फरार होने के लिए जेल के बैरक की मोटी सलाखों को ब्लेड से काट दिया औऱ वहां से फरार हो गए। बता दें कि उन्होंने भागने के लिए बैरक की सलाखों को एक रात में नहीं काटा बल्कि ये कैदी एक हफ्ते से सलाखों को ब्लेड से थोड़ा-थोड़ा काटते आ रहे थे। सलाखों को काटने के लिए कैदियों ने शाम का वो वक्त चुना था, जब जेल के अंदर पूजा होती थी। रेप और हत्या केस में बंद थे तीनों आरोपी...

    - 5 से 10 मिनट की इस सामूहिक पूजा में जब बाकी कैदी पूजा कर रहे होते थे तो ये तीनों पूजा में शामिल हुए बगैर बैरक के अंदर घुसकर सलाखों को ब्लेड से काटने में जुट जाते थे।
    - आदर्श जेल कंडा में बाकी कैदियों को सलाखों को काटने का पता न चले तो ये तीनों ही कैदी वे ब्लेड (आयरन कटर) को चलाने से पहले सलाखों पर साबुन लगा दिया करते थे।
    - साबुन लगाने के बाद सलाखों पर ब्लेड को चलाने की आवाज नहीं आती थी।
    - हफ्ते भर में करीब एक इंच मोटी सलाखों को थोड़ा-थोड़ा काटने के बाद 5 दिसंबर की रात जब सलाखें काटने में सफलता मिली तो तीनों बैरक से भाग निकले।
    - तीनों कैदियों ने पुलिस पूछताछ में जेल के अंदर से भागने की प्लानिंग का खुलासा किया है।
    - कंडा जेल से 5 दिसंबर की रात फरार हुए प्रेम बहादुर, लीलाधार और प्रताप सिंह को पुलिस ने शुक्रवार को सोलन के सबाथू के जंगल में धरा था।

    तीनों ने जेल में ही बनाया था भागने का प्लान
    - तीनों कैदी नेपाली मूल के हैं, लेकिन वो पहले से एक दूसरे को नहीं जानते थे। जेल में ही वे एक दूसरे से मिले और यहीं भागने का प्लान बनाया।
    - 27 वर्षीय प्रताप सिंह पर नाबालिग बच्ची से दुराचार का आरोप है। उसके खिलाफ महिला पुलिस थाना न्यू शिमला में 376, 377 और पोस्को एक्ट के तहत मामला दर्ज है।
    - 22 वर्षीय प्रेम बहादुर भी रेप केस में आरोपी है। उसे रामपुर पुलिस ने गिरफ्तार किया था। तीसरा कैदी लीलाधर पर हत्या का केस है। उसे कुल्लू पुलिस ने पकड़ा था।

    बैरक के अंदर ब्लेड कैसे पहुंचा, नहीं चला पता
    - कंडा जेल में कंस्ट्रक्शन कार्य चला हुआ था। जहां से इन कैदियों ने ब्लेड उठाया।
    - इस ब्लेड को बैरक के अंदर कैसे ले गए और इसमें किसने लापरवाही बरती है, इसके बारे में अभी तक पता नहीं चल पाया है।
    - जेल के अंदर और आते जाते वक्त सभी कैदियों की बाकायदा चैकिंग की जाती है।
    - ऐसे में ब्लेड को बैरक में अंदर ले जाना बड़ी लापरवाही की ओर इशारा करती है।

    आगे की स्लाइड्स में देखें फोटोज...

  • जेल में सारे कैदी करते थे पूजा, उस समय इस ट्रिक से काटी सलाखें और हुए फरार
    +9और स्लाइड देखें
    फरार आरोपा को पकड़े हुए पुलिस।
  • जेल में सारे कैदी करते थे पूजा, उस समय इस ट्रिक से काटी सलाखें और हुए फरार
    +9और स्लाइड देखें
    पुलिस ऐसे आरोपियों को पकड़कर लाई।
  • जेल में सारे कैदी करते थे पूजा, उस समय इस ट्रिक से काटी सलाखें और हुए फरार
    +9और स्लाइड देखें
    पुलिस की गिरफ्त में आरोपी।
  • जेल में सारे कैदी करते थे पूजा, उस समय इस ट्रिक से काटी सलाखें और हुए फरार
    +9और स्लाइड देखें
    पुलिस ने आरोपियों को जंगल से दबोचा।
  • जेल में सारे कैदी करते थे पूजा, उस समय इस ट्रिक से काटी सलाखें और हुए फरार
    +9और स्लाइड देखें
    तीनों ने जेल में ही बनाया था भागने का प्लान ।
  • जेल में सारे कैदी करते थे पूजा, उस समय इस ट्रिक से काटी सलाखें और हुए फरार
    +9और स्लाइड देखें
    तीनों कैदी नेपाली मूल के हैं, लेकिन वो पहले से एक दूसरे को नहीं जानते थे।
  • जेल में सारे कैदी करते थे पूजा, उस समय इस ट्रिक से काटी सलाखें और हुए फरार
    +9और स्लाइड देखें
    27 वर्षीय प्रताप सिंह पर नाबालिग बच्ची से रेप का आरोप है।
  • जेल में सारे कैदी करते थे पूजा, उस समय इस ट्रिक से काटी सलाखें और हुए फरार
    +9और स्लाइड देखें
    22 वर्षीय प्रेम बहादुर भी रेप केस में आरोपी है।
  • जेल में सारे कैदी करते थे पूजा, उस समय इस ट्रिक से काटी सलाखें और हुए फरार
    +9और स्लाइड देखें
    तीसरा कैदी लीलाधर पर हत्या का केस है।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Shimla News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Prisoners Absconded From Jail
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Shimla

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×