--Advertisement--

यहां का सर्दियों में तापमान माइनस 20 डिग्री तक, फिर भी बच्चे ऐसे करते हैं पढ़ाई

Temperature in minus 20 degrees

Danik Bhaskar | Jan 22, 2018, 06:29 AM IST
यहां का सर्दियों में तापमान माइनस 20 डिग्री तक यहां का सर्दियों में तापमान माइनस 20 डिग्री तक

यह फोटो हिमाचल प्रदेश की स्पीति घाटी के काजा शहर की 1000 साल पुरानी की-मॉनेस्ट्री (बौद्ध मठ) का है। सर्दियों में यहां तापमान माइनस 20 डिग्री तक पहुंच जाता है। आस-पास के गांवों के ज्यादातर परिवार अपने पहले बच्चे को लामा बनाते हैं। यानी वह कभी गृहस्थ जीवन में नहीं जाएगा। पूरा जीवन बुद्ध अाराधना में लगा देगा। बड़े होकर ये बच्चे देश-दुिनया के बौद्ध मठों में जाएंगे, बच्चों को पढ़ाएंगे और वहां का प्रबंधन देखेंगे।

माइनस 20 डिग्री में बच्चे 4 साल की उम्र से अपनाते हैं कठोर जीवन

- इन बच्चों की पूरी जिम्मेदारी मठ की होती है। 10वीं पास करने तक ये यहीं रहते हैं। ठंड चाहे जितनी हो, बच्चे स्कूल जाते ही हैं।

- सुबह 8 से शाम 4 बजे तक स्कूल होता है। 1 घंटे के लंच ब्रेक में वे मठ में आकर खाना खाते हैं। भोजन के बाद बच्चे बर्तन स्वयं साफ करते हैं।

- रोज शाम बच्चों को अच्छा सोचो, अच्छा करो, अच्छा बनो की शिक्षा दी जाती है। 6 से 7 बजे तक होमवर्क करते हैं। खास बात यह भी है कि रात का खाना बच्चे खुद बनाते हैं।

चंडीगढ़ से लाहौल स्पीति के काजा शहर जाने वाला रास्ता इतना दुर्गम है कि 520 किलोमीटर का सफर तय करने में 2 दिन का समय लग गया। इस मौसम में वहां कोई बाहरी व्यक्ति नहीं जाता। भास्कर रिपोर्टर गौरव भाटिया और फोटो जर्नलिस्ट अश्वनी राणा को इस बौद्ध मठ तक पहुंचने में भारी परेशानियां उठानी पड़ीं। इन दिनों वहां इतनी बर्फ है कि वाहन करीब 2 किलोमीटर पहले ही छोड़ना पड़ा। फिर पैदल ही मठ तक पहुंचे। लेकिन इन मुश्किल परिस्थितियों में बर्फ से ढंके पहाड़ों के बीच उन्होंने भावी पीढ़ी को तैयार होते देखा। और यह फोटो सामने आया।