Hindi News »Himachal »Shimla» The Patient Will Reach In 25 Minutes

कॉल आने के बाद 25 मिनट में पहुंचना होगा मरीज तक, नहीं पहुंची तो जेब से कटेंगे पैसे

अब 108 एंबुलेंस यदि मरीज को लेने 25 मिनट के भीतर नहीं पहुंचती है तो इसमें चालक को पेनल्टी पड़ेगी।

bhaskar news | Last Modified - Dec 04, 2017, 05:34 AM IST

  • कॉल आने के बाद 25 मिनट में पहुंचना होगा मरीज तक, नहीं पहुंची तो जेब से कटेंगे पैसे

    शिमला. अब 108 एंबुलेंस यदि मरीज को लेने 25 मिनट के भीतर नहीं पहुंचती है तो इसमें चालक को पेनल्टी पड़ेगी। इसमें चालक की सैलरी से पैसे काटे जाएंगे। नेशनल हेल्थ मिशन के निदेशक पंकज राय के साथ हुई बैठक में यह निर्णय लिया गया। निदेशक ने सख्त हिदायत दी कि मरीज को लेने के लिए 108 एंबुलेंस को 15 से 25 मिनट के भीतर मरीज तक पहुंचना होगा, ताकि मरीज को समय पर एंबुलेंस सेवा का लाभ मिल सके। यदि कोई कर्मचारी इसमें देरी करता है तो उसकाे इसका भुगतान करना होगा। वहीं यदि गलती कंपनी की तरफ से होती है तो कंपनी पर भी पेनल्टी डाली जाएगी। बैठक में 108 एंबुलेंस कर्मचारी संघ के प्रदेशाध्यक्ष पूर्णचंद समेत कई अन्य लोग मौजूद रहे।

    108 एंबुलेंस कर्मचारी यूनियन के सदस्य की बैठक एमडी नेशनल हेल्थ मिशन की अध्यक्षता हर तीन माह में होती है। इसमें सरकार, कंपनी और 108 एंबुलेंस कर्मचारी यूनियन के सदस्य मौजूद रहें। यह कमेटी सरकार की ओर से कर्मचारी हित के लिए गठित की गई हैं। इस कमेटी का गठन 9 मई 2016 को हुआ था। मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के आदेश पर अतिरिक्त मुख्यसचिव स्वास्थ्य के लिखित समझौते से कमेटी का गठन हुआ है।

    हर जिला पर होगी कमेटी गठित
    मरीजोंकर्मचारियों की किसी भी शिकायत को लेकर जिला राज्य स्तर पर कमेटी गठित की जाएगी। इसमें मुख्य चिकित्सा अधिकारी के अलावा कंपनी और यूनियन का एक-एक पदाधिकारी होगा। इस कमेटी के गठन का मकसद कर्मचारियों की बात यूनियन के माध्यम से सरकार, कंपनी पर पहुंचाना है। इसमें हर जिला का कर्मचारी अपनी बात कमेटी में रख सकेगा। कमेटी कर्मचारियों की समस्या का निदान करेगी।

    यह भी लिए गए निर्णय
    बैठक में कर्मचारियों के लिए भी कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए। इसमें बिना किसी कारण के निकाले गए कर्मचारियों को 10 दिसंबर तक वापस रखने के लिए कंपनी को निर्देश दिए गए। इसमें उन कर्मचारियों काे रखा जाएगा जो अभी तक कोर्ट नहीं गए। वहीं किसी भी कर्मचारी को अपने जिला से बाहर तबादला नहीं किया जाएगा। किसी भी कर्मचारी से आठ घंटे से ज्यादा काम करने पर ओवर टाइम देना होगा। सभी कर्मचारियों को अपनी डयूटी सही ढंग करनी होगी। गाड़ी की सफाई का विशेष ध्यान रखना होगा लापरवाही किसी भी प्रकार से बर्दाश्त नहीं होगी कोई भी गाड़ी मे खराबी या कंपनी से संबंधित कोई भी परेशानी होने पर कर्मचारी कमेटी से शिकायत करेंगे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Shimla

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×