--Advertisement--

पति की हत्या करने पर पत्नी को आजीवन कारावास, चाचा न्यायिक हिरासत में भेजा

Dainik Bhaskar

Dec 03, 2017, 05:55 AM IST

जुर्माना अदा करने की सूरत में छह माह का कठोर कारावास भुगतना होगा।

डेमो फोटो डेमो फोटो

सोलन. एडिशनल सेशन जज सोलन जसवंत सिंह की अदालत ने निर्मला देवी निवासी रामपुर तहसील अर्की को पति की हत्या के मामले में दोषी करार देते हुए आजीवन कारावास और 25 हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनाई है। जुर्माना अदा करने की सूरत में छह माह का कठोर कारावास भुगतना होगा।

यह है सारा मामला
डिप्टी डिस्ट्रिक्ट एटॉर्नी सोलन हेमंत सिंह चौधरी ने बताया कि यह घटना 26 मई, 2015 की है। अर्की तहसील के रामपुर निवासी मस्तराम और उसकी पत्नी निर्मला देवी की बेटी ने एनसीसी कैंप में जाने के लिए 500 रुपए की डिमांड की थी। इसी बात को लेकर पति-पत्नी के बीच झगड़ा हुआ था। गुस्से में आकर पत्नी ने डंडे से मस्तराम के सिर पर प्रहार किए, जिससे मस्तराम की मौत हो गई। इस दौरान उनका बेटा विनोद कुमार भी वहीं मौजूद था। मस्तराम के भांजे घुंघरिया राम ने इस मामले की शिकायत अर्की थाना में दर्ज करवाई। पुलिस ने मां-बेटे के खिलाफ कोर्ट में चालान पेश किया था। कोर्ट ने दलीलें सुनने के बाद निर्मला देवी को मस्तराम की हत्या का दोषी करार देते हुए यह सजा सुनाई, जबकि बेटे विनोद कुमार को कोर्ट ने बरी कर दिया।

X
डेमो फोटोडेमो फोटो
Astrology

Recommended

Click to listen..