--Advertisement--

अफसर 9 दिन में बताएं, सौ दिन में क्या और कैसे करेंगे : सीएस

सचिवों को संबंधित विभागों के सौ दिन में किए जाने वाले कार्यों के लक्ष्य की सूची 15 जनवरी तक सौंपने को कहा है।

Dainik Bhaskar

Jan 07, 2018, 07:03 AM IST
What and how will we do in a hundred days

शिमला. सीएम के आदेशों पर अब मुख्य सचिव ने सभी विभागाध्यक्षों को निर्देश जारी करके 15 जनवरी तक रिपोर्ट मांगी है कि सभी अफसरों ने अगले 100 दिनों में क्या टारगेट तय किए हैं। इसकी रिपोर्ट मुख्य सचिव कार्यालय को देनी होगी। कोताही बरतने पर मामले को गंभीरता से लिया जाएगा। मुख्य सचिव ने अपने पत्र में साफ तौर पर कहा है कि 100 दिन के लक्ष्य में प्रशासनिक सचिव आैर विभागाध्यक्ष रुटीन के कार्यों को शामिल करे। बल्कि ये बताया होगा कि क्या खास या बेहतर विभाग में किया जा सकता है।

अफसरों को ये भी बताया होगा कि इन लक्ष्यों को कैसे हासिल करना है, ये भी प्रशासनिक सचिव आैर विभाग के मुखिया को ही बताना होगा। मुख्य सचिव ने सभी अतिरिक्त मुख्य सचिवों, प्रधान सचिवों और सचिवों को संबंधित विभागों के सौ दिन में किए जाने वाले कार्यों के लक्ष्य की सूची 15 जनवरी तक सौंपने को कहा है।

मुख्यमंत्री ने दिया है 100 दिन का लक्ष्य
मुख्यमंत्री ने एक जनवरी को नए साल पर सभी अधिकारियों को संबंधित विभागों के 100 दिन के भीतर अपने लक्ष्य को पूरा करने के आदेश जारी किए थे। राज्य सरकार और केंद्र सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ समय पर लोगों को मिल सके इसे ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री ने यह आदेश जारी किए थे। अब सरकार ने अधिकारियों से सवा तीन महीने में पूरे किए जाने वाले कार्यों की सूची मांगी है। इसे टाइम बाउंड किया गया है।

कहा-100 दिन के लक्ष्य को प्रशासनिक सचिव आैर विभागाध्यक्ष रुटीन के कार्यों को शामिल करे
सभी विभागों से आने वाले कार्यों की सूची को मुख्य सचिव मुख्यमंत्री को सौंपेंगे। इस रिपोर्ट के आधार पर सरकार को पता चल सकेगा कि नई सरकार बनने के बाद विभाग 100 दिन के भीतर कौन से कार्यों को प्रमुखता के आधार पर पूरा करेंगे। यह रिपोर्ट केवल सरकार के लिए महत्वपूर्ण मानी जा रही है बल्कि प्रदेश की जनता के लिए भी इस रिपोर्ट के काफी मायने समझे जा रहे है। इसी रिपोर्ट के आधार पर आने वाले सवा तीन महीनों में लोगों के हित से जुड़े हुए कार्यों को प्रमुखता के आधार पर निपटाया जाएगा। कुछ विभागों ने तो मंत्रिमंडल की बैठक में सौ दिनों में किए जाने वाले कार्यों की सूची सरकार को सौंप दी है।

मुख्यमंत्री के आदेशानुसार सभी मंत्रियों की संबंधित विभाग के अधिकारियों के साथ बैठकों का दौर शुरु हो गया है। बैठकों में मंत्री जहां अधिकारियों को 100 दिन में किए जाने वाले कार्यों का लक्ष्य तय कर रहे है, वहीं उन्हें पूरी पारदर्शिता, निष्ठा और ईमानदारी से काम करने को कहा जा रहा है। हर विभाग में मंत्रियों ने अधिकारियों को प्रमुखता के आधार पर किए जाने वाले कार्यों की सूची तैयार करने को कहा दिया है। इन दिनों सभी विभागाध्यक्ष संबंधित मंत्रियों द्वारा दिए गए होमवर्क में जुटे हुए है और 15 जनवरी तक 100 दिन के कार्यों की सूची को तैयार करने में लगे है।

X
What and how will we do in a hundred days
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..