--Advertisement--

एक सप्ताह बाद भी नहीं सुलझ पाई नाबालिग की मौत की गुत्थी

श्यामलाल पुंडीर | पांवटा साहिब पांवटा पुलिस नाबालिग की मौत की गुत्थी एक सप्ताह बाद भी सुलझा नहीं सकी है। पुलिस...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 02:05 AM IST
श्यामलाल पुंडीर | पांवटा साहिब

पांवटा पुलिस नाबालिग की मौत की गुत्थी एक सप्ताह बाद भी सुलझा नहीं सकी है। पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट का खुलासा भी नहीं कर रही है। हालांकि पुलिस प्रारंभिक जांच में इसे डूबने से मौत होना बता रही है। मगर पुलिस शिमला भेजे गए बिसरे की रिपोर्ट व डाॅक्टरों की फाइनल ओपिनियन का इंतजार कर रही है। जिस कारण अभी भी नाबालिग की मौत की गुत्थी नहीं सुलझ पाई है। दूसरी ओर नाबालिग के परिजन पुलिस की अभी तक की जांच से संतुष्ट नहीं हैं। गौरतलब है कि तारूवाला से 17 जनवरी को गायब हुई नाबालिग छात्रा का शव यहां यमुना नदी में 26 जनवरी को तैरता मिला था। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम के लिए नाहन मेडिकल कालेज भेज दिया था। डाॅक्टरों ने इतना कहा कि नाबालिग की डूबने से मौत हुई है। मगर हत्या है या आत्महत्या इसकी पुष्टि डाक्टरों ने अपनी रिपोर्ट में नहीं की है। नाबालिग की मां ने पहले ही पुलिस में नाबालिग के अपहरण व हत्या की आशंका जताई थी।

रिपोर्ट के बाद स्पष्ट होगा| डीएसपी प्रमोद चौहान ने मामले की पुष्टि करते हुए बताया कि नाबालिग के बिसरे की रिपोर्ट आने के बाद पुलिस कुछ बता सकेगी। अभी डाक्टरों की फ ाइनल ओपिनियन नहीं मिली है। इसलिए अभी इस मामले में कुछ नहीं कहा जा सकता।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..