Hindi News »Himachal »Shimla» अनुबंध टीचरों को पुरानी पेंशन योजना से जोड़ा जाए

अनुबंध टीचरों को पुरानी पेंशन योजना से जोड़ा जाए

प्रदेश शिक्षा विभाग में 15 गई 2003 से पूर्व नियुक्त टीजीटी, जेबीटी,पीजीटी शिक्षकों की शुक्रवार को संजौली स्थित वरिष्ठ...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 02:05 AM IST

प्रदेश शिक्षा विभाग में 15 गई 2003 से पूर्व नियुक्त टीजीटी, जेबीटी,पीजीटी शिक्षकों की शुक्रवार को संजौली स्थित वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला के प्रांगण में आयोजित होने वाली जिला स्तरीय बैठक में इन पूर्व अनुबंध शिक्षकों को पुरानी पेंशन प्रणाली से न जोड़े जाने से उत्पन्न स्थिति पर चर्चा की जाएगी।

इन शिक्षकों की घुमारवीं में आयेाजित बैठक में गठित राज्य स्तरीय समन्वय समिति के सदस्यों हुकुम गौतम, नारायण शर्मा, जगदीश घनश्याम शर्मा व जिला शिमला समन्वय समिति के संयोजक सुधीर जोग ने बताया कि जो अनुबंध अध्यापक 2003 के बाद लगे थे और जिन्हें 8,10,11 साल बाद नियमित किया है। उनके हित में माननीय सर्वोच्च न्यायालय से पूनम देवी बनाम प्रदेश सरकार और नरेंद्र नायक बनाम प्रदेश सरकार केसों में फैसला आया है। इस फैसले में न्यायालय ने अनुबंध अध्यापकों के सेवाकाल को पुरानी पेंशन में जोड़ने को कहा है, लेकिन सरकार ने यह निर्णय अभी तक लागू नहीं किया है। समन्वय समिति के सदस्यों के अनुसार इस निर्णय को लागू करवाने के लिए प्रदेश के सैकड़ों शिक्षकों ने न्यायालय में केस किए हैं और बहुत से तैयारी कर रहे हैं। समिति के अनुसार इन अनुबंध शिक्षकों को 15 मई 2003 से पूर्व नियुक्त होने के बावजूद पुरानी पेंशन के लाभों से वंचित रखा है। इसके विपरीत 2001 में नियुक्त विद्या उपासकों को पेंशन रूल 1972 के तहत प्रथम नियुक्ति से सेवा लाभ पेंशन स्कीम के तहत लाया गया है। समिति के अनुसार संजौली में होने वाली बैठक में इस लाभ से वंचित सभी अनुबंध शिक्षक आगे की रणनीति बनाएंगे और मिलकर किसी ठोस नतीजे पर पहुंचेंगे। समन्वय समिति ने जिला के सभी अनुबंध अध्यापकों से इस बैठक में भाग लेने की अपील की है।

पेंशनर्स एसोसिएशन की बैठक: सेवानिवृत कर्मचारियों की मासिक बैठक में पेंशनर्स व कर्मचारियों को अंतरिम राहत का स्वागत

ठियोग | ठियोग उपमंडल पेंशनर्स एसोसिएशन की वीरवार को मंदिर हॉल ठियोग आयोजित मासिक बैठक में प्रदेश सरकार की ओर से प्रदेश के कर्मचारियों व पेंशनर्स को 8 प्रतिशत अंतरिम राहत एक जनवरी 2016 से देने पर खुशी जताते हुए मुख्यमंत्री का आभार जताया है। एसोसिएशन के अध्यक्ष बीआर शर्मा की अध्यक्षता में आयोजित इस बैठक में नई सरकार की ओर से तीन प्रतिशत महंगाई भत्ते की किश्त जारी करने के लिए भी मुख्यमंत्री को धन्यवाद दिया। एसोसिएशन के सदस्यों व पदाधिकारियों ने इस बात पर खेत जताया कि पूर्व कांग्रेस सरकार के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने 17 दिसंबर 2016 को पीटरहॉफ में आयोजित कार्यक्रम में पेंशनर्स की सबसे पुरानी मांग को मानते हुए 5,10 व 15 साल के बाद पेंशनवृद्धि को मूल पेंशन में जोड़ने की घोषणा की थी। लेकिन उन्होंने इस मांग को अपने कार्यकाल में पूरा नहीं किया, जिससे पेंशनर्स में काफी निराशा है। एसोसिएशन के प्रधान बीआर शर्मा ने मुख्यमंत्री से निवेदन किया कि वे पेंशनर्स की इस मांग को पूरा करें और पूर्व सरकार की घोषणा को लागू करवाएं। बैठक में एसोसिएशन के सदस्य आईपीएच से सेवानिवृत 60 वर्षीय भगतराम की अचानक मृत्यु पर सभी सदस्यों ने दो मिनट का मौन रखकर उन्हें श्रद्धांजलि दी। बैठक में एसोसिएशन के सलाहकार बीआर मुसाफिर, जीतराम खाची, रामसरन कश्यप, टीआर भारद्वाज, उपप्रधान हिरालाल, प्रचारसचिव बेलीराम, कोषाध्यक्ष टीआर वर्मा मौजूद रहे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Shimla

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×