Hindi News »Himachal »Shimla» प्रदेश के हित में आया केंद्रीय बजट: जयराम

प्रदेश के हित में आया केंद्रीय बजट: जयराम

केंद्र सरकार का बजट सत्ताधारी भाजपा की राय में प्रदेश में हित में है तो कांग्रेस ने बजट को निराशाजनक करार दिया है।...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 02:05 AM IST

केंद्र सरकार का बजट सत्ताधारी भाजपा की राय में प्रदेश में हित में है तो कांग्रेस ने बजट को निराशाजनक करार दिया है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने बजट के बाद कहा है कि ये बजट प्रदेश के हित है। सुलह में जनसभा में संबोधन के दौरान जयराम ने कहा कि बजट में रोहतांग टनल का जिक्र है और इसे शीघ्र पूरा करने के लिए कहा गया है। किसानों के लिए योजनाएं शुरू किए जाने की बात भी बजट में होने से प्रदेश के किसानों को फायदा होगा। केंद्रीय बजट में खासकर स्वास्थ्य क्षेत्र में केंद्र सरकार ने बहुत बड़ा फोकस किया है। 10 करोड़ गरीब परिवारों को स्वास्थ्य बीमा योजना में शामिल किया जाएगा। गंभीर बीमारी पर पांच लाख रुपये दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि केंद्रीय बजट में कृषि क्षेत्र में भी फोकस किया गया है।

हर वर्ग को राहत देने का सराहनीय प्रयास: धूमल

पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल ने कहा कि मोदी सरकार ने बेहतर बजट पेश किया है। इज आफ डूइंग की तरह इज आफ लिविंग काफी अच्छा प्रयास है। स्वास्थ्य क्षेत्र में बीमें की राशि को बढ़ाने से देश के लाखों परिवारों को राहत मिलेगी। सिंचाई के लिए अलग से योजना शुरू कर हिमाचल के किसानों आैर बागवानों को काफी राहत मिलेगी। देश में मकान बनाने से लेकर शौचालय बनाने का लक्ष्य रखा है। जनजातीय क्षेत्रों में एकलव्य योजना के तहत काफी लाभ होगा। कर्मचारियों को 40 हजार रुपए की स्टैंडर्ड डिडक्शन देकर मोदी सरकार ने बड़ी राहत दी है। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 2022 तक हर गरीब को घर देने की केंद्र सरकार की योजना गरीबों के प्रति सरकार का सकारात्मक रवैया दिखाती है|

नकदी फसलों के लिए वरदान साबित होगी केंद्र की योजना: कश्यप

लोकसभा सांसद वीरेंद्र कश्यप ने कहा कि आलू, प्याज ,टमाटर आदि नकदी फसलों के उत्पादकों के लिए 500 करोड़ की लागत से ऑपरेशन ग्रीन चला कर किसानों को राहत दी है। इससे सीजनल नकदी फसलों के उत्पादन को बढ़ाबा मिलेगा। शिमला, सोलन आैर सिरमौर जिला के किसानों लाभांवित होंगे। पिछड़े जिलों के लिए 2600 करोड़ लागत की हर खेत को पानी ग्राउंड इरीगेशन स्कीम का हिमाचल को काफी लाभ होगा। नवोदय की तर्ज पर एकलव्य विद्यालय खोले जाने की घोषणा का भी स्वागत किया।

संतुलित है बजट: राजेश साबू

सीआईआई की प्रदेश इकाई के चेयरमैन राजेश साबू ने केंद्रीय बजट को संतुलित बताया है। उन्होंने कहा कि मुद्रा योजना के तहत 3 लाख करोड़ रुपए की स्वीकृति स्वरोजगार सृजत और स्वरोजगार के लिए सरकार की प्रतिबद्धता को दर्शाती है। बजट से किसान की आय दोगुना होने की उम्मीद रहेगी। राजकोषीय घाटे को 3.5 प्रतिशत रखने के वित्त मंत्री के प्रयासों की सीआईआई हिमाचल प्रदेश स्टेट काउंसिल के उपाध्यक्ष आईएमजेएस सिद्धू ने कहा कि टेक्स्टाइल सेक्टर के लिए 7148 करोड़ रुपए जारी करना इस उद्योग को बढ़ावा देगा। यह लाभ श्रमिक आधारित उद्योगों को मिलेगा। इससे उद्योगों में रोजगार बढ़ेगा।

आम बजट हर वर्ग के लिए हितकारी : अनुराग

लोकसभा सांसद अनुराग ठाकुर ने वित्त मंत्री अरुण जेटली के आम बजट को कल्याणकारी,सार्थक और सधा हुआ बताया। उन्होंने कहा कि इससे बेहतर हेल्थ इश्योरेंस का रास्ता साफ़ हुआ है। नए भारत के निर्माण में किसानों की महत्वपूर्ण भूमिका के मद्देनज़र कई किसान कल्याणकारी योजनाओं का प्रावधान है। सरकार 70 लाख नई नौकरियों का सृजन करने जा रही है। उद्योग के विकास के लिए क्लस्टर बेस प्रोग्राम चलाए जाने से देश में औद्योगिक विकास को बढ़ावा मिलेगा।

बजट ने जनता को निराश किया:वीरभद्र

भास्कर न्यूज | शिमला

इधर पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने कहा कि केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली द्वारा पेश किए गए केंद्रीय बजट को वीरभद्र सिंह ने अब तक का सबसे निराशाजनक बजट है। इसमें हिमाचल को नजरअंदाज किया गया है। बजट में प्रदेश में रेलवे विस्तार की कोई बात नहीं की गई है। रेल के कई प्रोजेक्ट लटके पड़े हैं, इनका कोई जिक्र नहीं हैं। कुछ प्रोजेक्ट धीमी गति से चल रहे हैं, इस तरह से तो वे अगले कई दशकों तक पूरे नहीं हो सकते। वीरभद्र सिंह ने कहा कि उन्होंने बजट के विस्तार से टीवी पर देखा है, इससे लगता है कि 2019 के चुनावों को ध्यान में रखकर यह बजट बनाया है। इससे कुछ लोग तो खुश हो सकते हैं पर आम जनता के लिए बजट में राहत या खुश होने वाली कोई बात नहीं है। मध्यम वर्ग के लिए कुछ राहत दी गई है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Shimla

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×