--Advertisement--

बड़ाग्रां सभा में हिस्सेदारों के लाभ पर 21 लाख का डाका, सचिव सस्पेंड

जांच रिपोर्ट रजिस्ट्रार शिमला को भेजी| उधर हमीरपुर स्थित विभाग के एआरसीएस नरेंद्रदत्त शर्मा ने इस सभा में हुए...

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 02:05 AM IST
बड़ाग्रां सभा में हिस्सेदारों के लाभ पर 21 लाख का डाका, सचिव सस्पेंड
जांच रिपोर्ट रजिस्ट्रार शिमला को भेजी| उधर हमीरपुर स्थित विभाग के एआरसीएस नरेंद्रदत्त शर्मा ने इस सभा में हुए गड़बड़झाले की पुष्टि करते हुए बताया कि जांच रिपोर्ट रजिस्ट्रार शिमला को भेज दी गई है। वर्ष 2005 के बाद जब-जब भी सभा का लाभ ऑडिट में निकलता रहा, उसे छिपाया गया और अब उन्होंने यह विशेष जांच पूरी करके संबंधित सभा के सचिव कुलवंत सिंह को सस्पेंड कर दिया गया है। नरेंद्र ने बताया कि कुलवंत को सस्पेंड करने के बाद सभा का चार्ज सेल्जमैन को दिया गया है। अब शीघ्र ही सस्पेंड किए गए कुलवंत को चार्जशीट दी जाएगी।

6 बार किया ऑडिट

जिस ऑडिटर ने इस सभा का 6 बार ऑडिट किया वह अब सेवानिवृत्त हो चुका है लेकिन तीन साल पहले सेवानिवृत्त होने के बाद भी उससे एक बाद ऑडिट करवाया गया। तब भी किसी को पता नहीं चला, क्योंकि सचिव और ऑडिटर की भूमिका ही दोनों के बीच जिस अंदाज में खास बनी रही, उसी की वजह से पिछले 13 साल से इसका भांडा फोड़ नहीं हो पाया।

किसी को नहीं छोड़ेंगे

शिमला स्थित विभाग के एडिशनल रजिस्ट्रार राजेंद्र सिंह राठौर का कहना है कि यदि ऑडिटर की भूमिका भी इस कदर रही है और दाेनों की मिलीभगत से सामूहिक प्रोफिट गड़बड़झाले में तैयार हो गया तो ऑडिटर के खिलाफ भी एफआईआर दर्ज हो सकती है, फिलहाल रिपोर्ट का इंतजार है। फिलहाल मामला मिलीभगत है, इसमें किसी भी बख्शा नहीं जाएगा।

X
बड़ाग्रां सभा में हिस्सेदारों के लाभ पर 21 लाख का डाका, सचिव सस्पेंड
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..