• Hindi News
  • Himachal
  • Shimla
  • सेब की फसल को ओलों से बचाने के लिए फ्लावरिंग से पहले लगे हैलनेट
--Advertisement--

सेब की फसल को ओलों से बचाने के लिए फ्लावरिंग से पहले लगे हैलनेट

Shimla News - ठियोग | पिछले चार सालों से अपर शिमला के ठियोग व अन्य सेब उत्पादक क्षेत्रों में ओलों से सेब की फसल को हो रहे नुकसान के...

Dainik Bhaskar

Apr 02, 2018, 02:05 AM IST
सेब की फसल को ओलों से बचाने के लिए फ्लावरिंग से पहले लगे हैलनेट
ठियोग | पिछले चार सालों से अपर शिमला के ठियोग व अन्य सेब उत्पादक क्षेत्रों में ओलों से सेब की फसल को हो रहे नुकसान के कारण सेब क्षेत्रों में बागवान इस साल बड़े पैमाने पर अपने बगीचों को हैलनेट से ढकने के काम में जुटे हुए हैं। ठियोग के मतियाना, शिलारू, संधू, सरीवन, बासा ठियोग, माहौरी, चियोग आदि सेब क्षेत्रों में जो बागवान बिना हैलनेट के बागवानी कर रहे थे इस साल उन्होंने भी हेलनेट खरीदने में अपनी काफी जमापूंजी लगा दी है।

बाजार में नहीं मिल रहे हैलनेट- इस साल हैलनेट की बढ़ती मांग के कारण बाजार में इसकी कमी हो गई है। कई बागवानों ने दुकानदारों से कई कई दिनो से बुकिंग करवा रखी है लेकिन उन्हें समय पर नेट नहीं मिल रहे। बागवानों को डर है कि पिंकबड स्टेज या फ्लावरिंग के ठीक समय पर ओला वृष्टि हुई तो इस साल भी सेब की फसल जाती रहेगी। पिछले साल भी ओलों व तूफान से काफी नुकसान हुआ था।

ठियोग के मतियाना क्षेत्र में अधिकतर सेब बगीचों पर बागवान लगा चुके हैं हैलनेट।

X
सेब की फसल को ओलों से बचाने के लिए फ्लावरिंग से पहले लगे हैलनेट
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..