--Advertisement--

“..ए रात जरा थम-थम के गुजर.. मेरा चांद...”

शिमला| पूर्णिमा की रात जब चांद अपनी साेलह कलाओं से सुसज्जित होकर निकला तो इससे पहाड़ों की रानी शिमला का सौंदर्य भी...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 02:10 AM IST
शिमला| पूर्णिमा की रात जब चांद अपनी साेलह कलाओं से सुसज्जित होकर निकला तो इससे पहाड़ों की रानी शिमला का सौंदर्य भी और निखर आया। चार दिन लगातार छुट्टी होने के कारण हजारों की संख्या में सैलानी शिमला पहुंचे थे। इस आकर्षक दृश्य को हजारों सैलानियों ने अपने कैमरों में कैद किया। सैलानियों ने इस चांद का दीदार ही नहीं किया बल्कि चांदनी की रोशनी में शिमला की खूबसूरती का मजा भी लिया। फोटो : सतनाम गिल