--Advertisement--

प्रदेश में कमजोर पड़ा पश्चिमी विक्षोभ, नहीं हुई बर्फबारी

प्रदेश में पश्चिमी विक्षोभ के निष्क्रिय होने से यहां न तो बारिश ही हुई और न बर्फबारी। इससे किसानों बागवानों को...

Danik Bhaskar | Feb 01, 2018, 02:10 AM IST
प्रदेश में पश्चिमी विक्षोभ के निष्क्रिय होने से यहां न तो बारिश ही हुई और न बर्फबारी। इससे किसानों बागवानों को मायूसी का सामना करना पड़ा है। मौसम विभाग की भविष्यवाणी से प्रदेश में किसानों बागवानों में बारिश बर्फबारी की आस जगी थी, लेकिन मौसम की बेरुखि के कारण प्रदेश में कहीं पर भी बारिश की एक बूंद नहीं गिरी। हालांकि तापमान में तीन से चार डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई है। शिमला का अधिकतम तापमान 17 डिग्री सेल्सियस से गिर कर 13 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया है। इसी तरह सुंदरनगर और भूंतर का 21-21, धर्मशाला का 16, ऊना का 25.3, नाहन का 21.9, पालपुर का 17, सोलन का 20 और कांगड़ा का अधिकतम तापमान 21 डिग्री सेल्सियस मापा गया है। तापमान में आई गिरावट के कारण ठंड एक बार फिर लोगों को अपना एहसास दिला रही है। मौसम विभाग ने अगले दो दिनों तक प्रदेश में सभी जगह मौसम के साफ रहने का पूर्वानुमान जारी किया है। तीन फरवरी को मौसम फिर करवट बदलेगा।

तापमान में भी तीन से चार डिग्री सेल्सियस की गिरावट