Hindi News »Himachal Pradesh News »Shimla News» Electoral Tiredness With Supporters

परिवार, दोस्तों और समर्थकों के साथ उतारी चुनावी थकान, सुबह से रात तक किया था प्रचार

bhaskar news | Last Modified - Nov 11, 2017, 07:28 AM IST

मतदान समाप्त होने के बाद प्रत्याशियों ने राहत की सांस ली।
  • परिवार, दोस्तों और समर्थकों के साथ उतारी चुनावी थकान, सुबह से रात तक किया था प्रचार
    +3और स्लाइड देखें
    शिमला. 28 दिन की चुनावी थकान के बाद शुक्रवार को प्रत्याशी रिलैक्स नजर आए। किसी ने मालरोड घूमने का आनंद लिया तो किसी ने दिनभर अपने समर्थकों के साथ मतदान का फीडबैक लिया। यही नहीं कई प्रत्याशी परिवार के साथ अपने ही घर पर थकान मिटाते हुए दिखे। बीते 12 अक्टूबर को चुनाव की तिथि घोषित होने के बाद प्रत्याशियों ने प्रचार का काम तेज कर दिया था। जहां दिनभर चुनाव रैलियां होती थी, वहीं देर रात तक डोर टू डोर चुनाव प्रचार चलता था। ऐसे में बीते वीरवार को मतदान समाप्त होने के बाद प्रत्याशियों ने राहत की सांस ली।
    शिमला शहरी से भाजपा प्रत्याशी सुरेश भारद्वाज अपने घर पर ही रहे। कार्यकर्ता इनसे मिलने के लिए घर पर ही आए थे। भारद्वाज ने कार्यकर्ताओं के साथ बैठक भी की। वे काफी रिलेक्स नजर आए। बूथों पर मतदान की फीडबैक भी इन्होंने कार्यकर्ताओं से ली। ये शिमला शहरी के मौजूदा विधायक हैं।
    माकपा प्रत्याशी संजय पहुंचे गांव
    शिमलाशहरी से माकपा प्रत्याशी संजय चौहान कोटखाई अपने गांव के लिए रवाना हुए। यहां पर इन्होंने अपने परिवार के साथ समय बिताया। हालांकि, शिमला शहर में कार्यकर्ता हर रोज की तरह कार्यालय में जरूरी काम निपटाते हुए नजर अाए। संजय चौहान ने कार्यकर्ताओं से फोन पर ही फीड बैक लिया। ये शहर के पूर्व मेयर रह चुके हैं।
    आजाद प्रत्याशी हरीश जनारथा पहुंचे टिक्कर
    शिमलाशहरी से आजाद प्रत्याशी हरीश जनारथा टिक्कर के क्षैणी में अपने गांव के लिए रवाना हुए। उन्होंने अपने परिवार के साथ गांव में वक्त बिताया। शहर में चुनाव प्रचार के दौरान इन्हाेंने डोर टु डोर प्रचार किया था। ऐसे में लगातार काम करने के बाद ये परिवार को समय नहीं दे पा रहे थे। इन्होंने वर्ष 2012 में भी कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ा था।
    कसुम्पटी से कांग्रेस प्रत्याशी अनिरूद्व सिंह अपने कुछ दोस्तों के साथ मालरोड़ की सैर करने को निकले। चुनाव में व्यस्त रहने के कारण उन्होंने अपनी थकान मिटाने के लिए घूमने का विकल्प निकाला। दिनभर वह रिज मालरोड़ पर टहलते हुए नजर आए। इस दौरान उनके साथ कुछ कार्यकर्ता भी नजर आए। ये कसुम्पटी से मौजूदा विधायक भी हैं।
    शिमला शहरी से कांग्रेस प्रत्याशी कांग्रेस कार्यालय पहुंचे। यहां पर इन्होंने कार्यकर्ताआें के साथ बैठक करने के साथ ही फीडबैक लिया। यहां पर कुछ वरिष्ठ लोगों से इन्होंने मतदान के बारे में जानकारी ली। इस दौरान इन्होंने कार्यकर्ताओं के साथ खूब हंसी मजाक भी किया। ये शिमला शहर के पूर्व विधायक रह चुके हैं।
    शिमला ग्रामीण से भाजपा प्रत्याशी प्रमोद शर्मा ने अपने परिवार के साथ समय बिताया। इन्होंने पूरा दिन अपनी पत्नी बच्चों के साथ समय व्यतीत किया। इसके अलावा भी ये अपने कार्यकर्ताओं के साथ निरंतर फोन पर संपर्क में रहे। कुछ कार्यकर्ता इनसे मिलने के लिए घर पर भी पहुंचे थे। ये वर्तमान में एचपीयू में शिक्षक हैं।
  • परिवार, दोस्तों और समर्थकों के साथ उतारी चुनावी थकान, सुबह से रात तक किया था प्रचार
    +3और स्लाइड देखें
  • परिवार, दोस्तों और समर्थकों के साथ उतारी चुनावी थकान, सुबह से रात तक किया था प्रचार
    +3और स्लाइड देखें
  • परिवार, दोस्तों और समर्थकों के साथ उतारी चुनावी थकान, सुबह से रात तक किया था प्रचार
    +3और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Shimla News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Electoral Tiredness With Supporters
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      More From Shimla

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×