--Advertisement--

पुलिस बदमाशों में हुई मुठभेड़, 25 हजार के इनामी बदमाश समेत तीन अरेस्ट

Dainik Bhaskar

Nov 18, 2017, 06:54 AM IST

बदमाशों के कब्जे से पुलिस ने दो पिस्टल 5 जिंदा कारतूस बरामद किए हैं।

Encounter in police rookie

जुलाना/जींद. सीआईए टीम बदमाशों के बीच मुठभेड़ हो गई। दोनों ओर से फायरिंग हुई। इस दौरान पुलिस ने 25 हजार रुपए के एक इनामी बदमाश संदीप समेत तीन को काबू किया है। पकड़े गए बदमाशों में पिछले सप्ताह करेला गांव में किसान सतबीर की हत्या करने का आरोपी विकास भी शामिल है। बदमाशों के कब्जे से पुलिस ने दो पिस्टल 5 जिंदा कारतूस बरामद किए हैं। पुलिस ने तीनों के खिलाफ केस दर्ज कर पूछताछ शुरू कर दी है।

सीआईए टीम को गुरुवार देर रात जानकारी मिली थी कि करेला गांव के सतबीर की हत्या करने का आरोपी विकास अपने साथियों के साथ शामलोकलां गांव के समीप नहर पुल पर बैठा है। इस पर सीआईए इंचार्ज सुरेंद्र कुमार ने टीम के साथ मौके पर दबिश दी। जैसे ही नहर पुल पर बैठे बदमाशों को सीआईए टीम नजर आई उन्होंने उस पर फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस ने भी जवाबी फायरिंग की। बदमाश भागने लगे। पुलिसकर्मियों ने तीनों बदमाशों को पकड़ लिया। बदमाशों में 25 हजार के इनामी बदमाश शामदो निवासी संदीप, करेला निवासी विकास उर्फ बाबा गांव पूठी निवासी प्रेम उर्फ पंकज शामिल हैं। तलाशी के दौरान सीआईए को बदमाशों के कब्जे से दो पिस्टल भी बरामद हुए।

संदीप के खिलाफ हैं 6 मुकदमे दर्ज
सीआईएटीम इंचार्ज सुरेन्द्र कुमार ने बताया कि संदीप के खिलाफ हत्या, हत्या का प्रयास अन्य वारदातों के कुल 6 मुकदमे दर्ज हैं। वर्ष 2013 में संदीप ने अपने ही गांव शामदो निवासी नरेश की हत्या कर दी थी। इसमें संदीप को 20 साल की सजा हुई। इसमें वह फरवरी 2017 को जींद जेल से पैरोल पर बाहर आया था। बाद में पैरोल जंप कर गया और उसने 6 नवंबर को साथियों विकास, प्रेम सचिन के साथ मिलकर करेला गांव निवासी सतबीर को शराब ठेके के पास गोली मार कर उसकी हत्या कर दी। इसी प्रकार दूसरे मामले में संदीप ने अपने साथियों के साथ मिलकर फरवरी 2017 में राजेश नामक व्यक्ति को गोली मारी थी। उसके खिलाफ अलेवा थाना में केस दर्ज हैं। इसमें यह फरार चल रहा था।

तीसरे मामले में संदीप ने अपने साथियों के साथ मिलकर अप्रैल 2017 को खरकरामजी गांव निवासी अजय उर्फ नीलमा की हत्या करने की नियत से उस पर गोलियां चलाई थीं। उसके खिलाफ सदर थाना जींद में केस दर्ज हैं, जिसमें यह फरार चल रहा था। चौथे मामले में सिरसा जिले के गांव गीगोरानी में अपने साथियों के साथ मिलकर एक व्यक्ति पर जानलेवा हमला किया था जिस पर थाना औढा में केस दर्ज है। इसमें भी फरार चल रहा था। इसके साथ ही संदीप ने अपने साथियों के साथ मिलकर गांव शामदो निवासी अजमेर पर किठाना गांव में जान से मारने की नियत से गोली चलाई थीं। इनके अलावा संदीप के खिलाफ गुड कंडक्ट का भी केस दर्ज हैं।

X
Encounter in police rookie
Astrology

Recommended

Click to listen..