--Advertisement--

गुड़िया गैंगरेप- सरकार ने कहा-चालान पेश करने से पहले मंजूरी लेना जरूरी

गुड़िया गैंगरेप | सीबीआई के पत्र को गृह विभाग ने लाॅ डिपार्टमेंट को भेजा

Dainik Bhaskar

Nov 25, 2017, 07:13 AM IST
डेमो फोटो डेमो फोटो

शिमला. गुड़िया मामले में सीबीआई को चार्जशीट पेश करने से पहले हर अधिकारी आैर कर्मचारी की अभियोजन मंजूरी लेनी होगी। राज्य गृह विभाग ने लाॅ डिपार्टमेंट की मंजूरी ली है। लाॅ विभाग इसमें हर अधिकारी या कर्मचारी के खिलाफ चालान पेश करने के लिए अभियोजन मंजूरी की बात कही है। इसमें एक आईपीएस, दो एचपीएस से लेकर इंस्पेक्टर से लेकर कांस्टेबल स्तर के अधिकारी शामिल हैं।

लाॅ विभाग के मशवरे के बाद विधि विभाग की आेर से इसका मसौदा तैयार कर सीबीआई को भेजा जाना है। सीबीआई ने जिन आठ पुलिस अधिकारियों एवं कर्मियों को गिरफ्तार किया है। इनमें आईपीएस एस जहूर जैदी, डीबल्यू नेगी, मनोज जोशी, राजेंद्र सिंह, एएसआई दीप चंद, सूरत सिंह, मोहन लाल,रफीक अली और रंजीत स्ट्रेटा शामिल हैं। उम्मीद है कि सीबीआई इस मामले में अगली सुनवाई को चालान पेश कर सकती है।
सीबीआई कस्टोडियल डेथ मामले में दावा करती है नौ गिरफ्तारी हो चुकी हैं, लेकिन अभी तक इस मामले की जांच को भी अंजाम तक नहीं पहुंचा सकी है। इस मामले में आरोपियों के खिलाफ पुख्ता सुबूत जुटाने के लिए सीबीआई ने एक हार्ड डिस्क और 42 मोबाइल में अपने कब्जे में लिए हैं। हार्ड डिस्क और मोबाइल जांच के लिए दिल्ली और हैदराबाद स्थित सीएफएसएल भेजे गए हैं। इनकी रिपोर्ट अभी आनी है। इस पर ही सीबीआई की उम्मीद टिकी है।

X
डेमो फोटोडेमो फोटो
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..