Hindi News »Himachal »Shimla» Virbhadra Wants To Visit Helicopter On Delhi Tour

दिल्ली दौरे पर हेलीकाॅप्टर में जाना चाहते हैं वीरभद्र, आयोग से मांगी इस्तेमाल की अनुमति

राज्य सरकार की आेर से चुनाव आयोग को यह प्रस्ताव मंजूरी के लिए भेजा गया है।

BhaskarNews | Last Modified - Nov 15, 2017, 06:06 AM IST

  • दिल्ली दौरे पर हेलीकाॅप्टर में जाना चाहते हैं वीरभद्र, आयोग से मांगी इस्तेमाल की अनुमति
    शिमला. मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने राज्य चुनाव आयोग से हेलीकाप्टर इस्तेमाल करने की अनुमति मांगी है। दिल्ली दौरे के लिए वह हेलीकाप्टर इस्तेमाल करना चाहते हैं। सीएम की आेर से यह प्रस्ताव जीएडी के माध्यम से राज्य चुनाव आयोग को भेजा गया है। चुनाव आयोग से इसकी मंजूरी के बाद ही मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह हेलीकाप्टर का दिल्ली जाने के लिए इस्तेमाल कर सकेंगे। इनके साथ ही राज्य के उद्योग मंत्री मुकेश अग्निहोत्री ने भी सरकारी वाहन का दिल्ली दौरे के लिए इस्तेमाल की मंजूरी राज्य चुनाव आयोग से मांगी है। दिल्ली में होने वाले ट्रेड फेयर के लिए मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के साथ उद्योग मंत्री मुकेश अग्निहोत्री ने जाना है। इसलिए राज्य सरकार की आेर से चुनाव आयोग को यह प्रस्ताव मंजूरी के लिए भेजा गया है।
    मिडडे मील पर भी संकट
    राज्य में चुनाव आचार संहिता लागू होने के बाद स्कूलों को मिड डे मील के लिए आवश्यक राशि जारी नहीं हो पा रही है। इससे स्कूलों में मीड डे मिल यानी दोपहर के खाने पर संकट गहरा गया है। इसलिए राज्य सरकार ने चुनाव आयोग से मिड डे मील की राशि जारी करने की अनुमति मांगी है। प्रदेश में दस हजार प्राइमरी आैर तीन हजार के लगभग मिडल स्कूल है। इन सभी में दोपहर का खाना बनाया जाता है। केंद्र से राशि मिलने के बाद राज्य सरकार इसे स्कूलों को जारी करती है। इस बार इसमें काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा था।
    पीडीएस के राशन की मंजूरी का इंतजार
    राज्य सरकार ने राशनका़र्ड धारकों को दिसंबर में राशन मिल सके, इसके लिए राशन खरीद के लिए चुनाव आयोग से मंजूरी मांगी है। इसकी मंजूरी केंद्रीय चुनाव आयोग से मौखिक तौर पर मिल चुकी है, लेकिन राज्य सरकार इसमें खरीद करने के लिए केंद्रीय चुनाव आयोग की लिखित मंजूरी का इंतजार कर रही है। इसकी स्वीकृति मिलने के बाद हिमाचल के 17.50 लाख राशनकार्ड धारकों को बड़ी राहत मिलेगी। अभी तक उनके राशन की सप्लाई जो संकट का बादल है, उसके छंटने की उम्मीद बन गई है।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Shimla

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×