Hindi News »Himachal »Shimla» Zimbabwes Bank Cashier Learned To Grow Mushrooms

जिम्बाब्वे के बैंक कैशियर ने सीखा मशरूम उगाना, उत्पादन की तकनीक जानी

शिविर में देश के 60 दूसरे लोगों के साथ शैडरिक भी मशरूम उगाने की तकनीक जानने आए हैं।

BhaskarNews | Last Modified - Nov 15, 2017, 06:52 AM IST

  • जिम्बाब्वे के बैंक कैशियर ने सीखा मशरूम उगाना, उत्पादन की तकनीक जानी
    सोलन.सोलन जिले में उगाए जाने वाले बटन मशरूम ऑयस्टर मशरूम का स्वाद अब जिम्बाब्वे जैसे अफ्रीकी देश को भी मिलेगा। इन दोनों किस्मों के मशरूम को विकसित तकनीक के साथ उगाने के तरीके शैडरिक इन दिनों राष्ट्रीय मशरूम अनुसंधान निदेशालय सोलन में सीख रहे हैं। मंगलवार से शुरू हुए प्रशिक्षण शिविर में देश के 60 दूसरे लोगों के साथ शैडरिक भी मशरूम उगाने की तकनीक जानने आए हैं।
    जिम्बाब्वे में उगाते हैं लेकिन तकनीक कम
    जिम्बाब्वे से सोलन मशरूम का प्रशिक्षण लेने आए 45 वर्षीय शैडरिक ने बताया कि वह किसान परिवार से संबंध रखता है। शैडरिक जिम्बाब्वे में एक बैंक में कैशियर का काम करता है और साथ में मशरूम की खेती करना चाहता है। शैडरिक ने कहा कि वह अपने देश में मशरूम की व्यावसायिक खेती करना चाहते हैं। शैडरिक ने बताया कि अभी भी जिम्बाब्वे में मशरूम की खेती की जा रही है, लेकिन तकनीकी जानकारी के अभाव में किसानों को मशरूम सही तरीके से उगाना नहीं रहा। इस वजह से मशरूम के कारोबार में भी उठाना पड़ रहा है। उनके देश में मशरूम पर तकनीकी जानकारी के लिए कोई भी प्रशिक्षण केंद्र नहीं है।
    ट्रेनिंग के लिए आए जिम्बाब्वे से सोलन
    शैडरिक ने बताया कि जब मशरूम उगाने की सोची तो फैसला लिया कि वह सबसे पहले मशरूम उत्पादन की तकनीकों को सीखें। उनके देश में मशरूम तो उगाई जा रही है लेकिन इसके बारे में नॉलेज की कमी है। रिसर्च किया पता चला कि डीएमआर सोलन प्रशिक्षण करके अपने देश में मशरूम के प्रोडक्शन को ज्यादा अच्छे तरीके से की सकते हैं।
    वापस जाकर करेंगे मशरूम का कारोबार: शैडरिक
    शैडरिकके मुताबिक जिम्बाव्वे में मशरूम की अच्छी मार्केट हैं। लोग पौष्टिकता वाले मशरूम को पसंद करते हैं। इसलिए वहां मशरूम उत्पादन के बाद अच्छा बाजार मिलने की संभावनाएं है। वह अपने देश में सिर्फ मशरूम की खेती करने का इरादा करके भारत आए हैं बल्कि मशरूम की खेती के साथ ही बड़े स्तर पर मशरूम का बिजनेस भी करेंगे। क्योंकि मशरूम कम जगह और कम लागत में अच्छी इनकम देता है।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Shimla

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×