एचपीयू में 2400 के करीब छात्राएं, लेकिन फ्री टाइम में बैठने के लिए एक भी काॅमन रूम नहीं

Shimla News - हिमाचल प्रदेश यूनिवर्सिटी में लड़काें के मुकाबले लड़कियाें की संख्या काफी ज्यादा है। करीब 2400 छात्राएं यहां...

Bhaskar News Network

Oct 13, 2019, 07:25 AM IST
Shimla News - around 2400 students in hpu but not a common room to sit in free time
हिमाचल प्रदेश यूनिवर्सिटी में लड़काें के मुकाबले लड़कियाें की संख्या काफी ज्यादा है। करीब 2400 छात्राएं यहां रेगुलर पढ़ाई कर रही हैं, लेकिन इनके लिए कैंपस में काॅमन रूम की काेई सुविधा उपलब्ध नहीं हैं। हालांकि, हाॅस्टल में ये सुविधा दी गई है, लेकिन कैंपस में गर्ल्स काॅमन रूम नहीं हैं। इससे छात्राअाें काे दिन के समय बैठने के लिए काेई जगह नहीं मिल रही है। छात्राअाें का कहना है कि वह पिछले काफी समय से प्रशासन के सामने डिमांड उठा रहे है कि कैंपस में एक या दाे काॅमन रूम की व्यवस्था की जाए। ताकि, उन्हें दिन के समय यहां बैठने के लिए किसी तरह की दिक्कताें का सामना न करना पड़े। इसके बावजूद भी काेई व्यवस्था नहीं हाे रही है। अब अाने वाले दिनाें में छात्र संगठन एबीवीपी के बैनर तले छात्राएं डीन अाॅफ स्टडीज का घेराव करेंगे। इस दाैरान जल्द से जल्द काॅमन रूम देने की डिमांड रखी जाएगी। ताकि, कैंपस में कक्षाअाें के दाैरान छात्राअाें काे बैठने के लिए काेई व्यवस्था हाे।

डे स्काॅलर्स के लिए नई बसें खरीदने की मांगः कैंपस में अभी तक भी डे स्कॉलर्स की बसों की समस्या जस की तस बनी हुई है। स्टूडेंट लगातार प्रशासन के समक्ष पहले भी इन मांगों को उठा रहे है, लेकिन छात्र हित में कोई भी कदम नहीं उठाया गया है। यूनिवर्सिटी की बसें खस्ता हालत में है। नीला बस पिछले 17 सालों से चली है। इसकी हालात ऐसी है कि, कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है। प्रशासन छात्रों की जान की परवाह न किए बगैर इस बस को चला रहा है। एबीवीपी के कैंपस सचिव मुनीष वर्मा का कहना है कि जल्द से जल्द प्रशासन नई बसें खरीदें। संजौली तथा पंथाघाटी से आने वाली बसे अक्सर बहुत से छात्रों को विवि लाने में असमर्थ हैं, क्योंकि ये बसें पहले ही भर जाती हैं।

काॅलेज कैंपस में हंै काॅमन रूम, एचपीयू में नहीं शहर के काॅलेजाें में काॅमन रूम की सुविधा है, जबकि एचपीयू में अभी तक भी छात्राअाें काे इस सुविधा से वंचित रखा हुअा है। एचपीयू ने हाल ही में छात्राें से साइंस हाॅल भी वापस ले लिया था। अब छात्राें की डिमांड है कि या ताे साइंस हाॅल काे काॅमन रूम बनाया जाए या फिर कहीं दूसरी जगी उन्हें जगह मुहैया करवाई जाए। इससे छात्राअाें काे कैंपस में बैठने के लिए काेई जगह मुहैया हाे जाएगा।

X
Shimla News - around 2400 students in hpu but not a common room to sit in free time
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना