शिमला

--Advertisement--

बिलासपुर के छडोल के पास चट्टान गिरने से एनएच 21 बंद

वाहनों की आवाजाही के लिए अस्थायी मार्ग खोल दिए गए हैं

Dainik Bhaskar

Aug 12, 2018, 11:51 AM IST
बिलासपुर के छडोल के पास चट्टान बिलासपुर के छडोल के पास चट्टान

बिलासपुर। बिलासपुर के छडोल के पास चट्टान गिरने से एनएच 21 बंद हो गया। प्रदेश में बारिश के चलते रविवार सुबह बिलासपुर के एनएच 21 भारी भरकम चट्टानों के गिरने से वाहनों की आवाजाही रोक दी गई जिस कारण कुल्लू, मनाली, धर्मशाला और शिमला जाने वाले आम लोगों और सैलानियों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। प्रशासन के अधिकारीयों ने मौके पर पहुँच कर पहाड़ी को मार्ग से हटाने का कार्य शुरू कर दिया है।

वाहनों की आवाजाही के लिए अस्थायी मार्ग खोल दिए गए हैं। हालांकि चट्टानों के गिरने के समय वहां से कोई गाड़ी नहीं गुजर रही थी। अगर हादसे की चपेट में कोई गाड़ी आ जाती तो इससे कई लोगों की जान भी जा सकती है। वहीं सड़क बंद होने के कारण दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लग गई जिसमें सैकड़ों सैलानी भी घंटों तक जाम में फंसे रहे।

हरिपुरधार-नाहन मार्ग पर छोटे वाहनों की आवाजाही फिर बंद
हरिपुरधार-नाहन मार्ग बड़ियालटा के पास डंगा गिरने के कारण छोटे वाहनों की आवाजाही भी बंद हो गई है। पिछले दिनों भारी चट्टाने आने के कारण यह मुख्य मार्ग बंद हो गया था। शुक्रवार को इस मार्ग को छोटे वाहनों के लिए खोल दिया गया था। मगर सड़क का निचला किनारा फिर टूट गया है। जिसके कारण वहां पर सड़क मात्र 1.85 मीटर (लगभग 6 फुट) रह गई है।

हालांकि छोटे वाहनों को निकालने के लिए लगभग 6 फुट सड़क की आवश्यकता होती है। मगर वहा पर पीछे चट्टाने है जिसके कारण छोटी गाड़ी के चट्टान से टकराने का पूरा खतरा रहता है। यदि चट्टान से बचाने के प्रयास किए जाते हैं तो गाड़ी के सडक़ से बाहर जाने का खतरा रहता है। वहां पर कोई दुर्घटना न हो इसलिए विभाग ने डंगे के दोनों छोर पर सडक़ में दीवारे खड़ी कर दी हैं। छोटे वाहनों के लिए सडक़ को खोले जाने की खबर मिलते ही हरिपुरधार के लिए भारी संख्या में पर्यटकों का आना शुरु हो गया था। शनिवार को हरिपुरधार आने वाले पर्यटकों को विभाग ने बडिय़ाल्टा से ही भेज दिया। हरिपुरधार न पहुंच पाने के करण पर्यटकों के मायुस होकर वापस लौटना पड़ा।

X
बिलासपुर के छडोल के पास चट्टानबिलासपुर के छडोल के पास चट्टान
Click to listen..