• Home
  • Himachal Pradesh News
  • Shimla News
  • Shimla - अप्रत्यक्ष चुनाव के लिए 14 सितंबर तक हो सकेंगे नॉमिनेशन, विवि प्रशासन का फैसला
--Advertisement--

अप्रत्यक्ष चुनाव के लिए 14 सितंबर तक हो सकेंगे नॉमिनेशन, विवि प्रशासन का फैसला

हिमाचल प्रदेश यूनिवर्सिटी समेत कॉलेजों में अप्रत्यक्ष चुनाव के लिए 14 सितंबर तक कॉलेजों को पात्र छात्रों की सूची...

Danik Bhaskar | Sep 13, 2018, 02:11 AM IST
हिमाचल प्रदेश यूनिवर्सिटी समेत कॉलेजों में अप्रत्यक्ष चुनाव के लिए 14 सितंबर तक कॉलेजों को पात्र छात्रों की सूची जारी करने के आदेश दिए हैं। इसके अलावा नॉमिनेशन भी इसी तिथि तक कॉलेज प्रशासन दाखिल कर सकते हैं। इसके बाद किसी तरह की कोई नामांकन दाखिल नहीं किया जा सकता है। 19 सितंबर तक एससीए का गठन हर कॉलेज को करना होगा।

एचपीयू समेत 135 कॉलेजों में चुनाव होते हैं। इसमें एससीए में अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, महासचिव और सहसचिव चुने जाते हैं। मेरिटोरियस और खेलकूद में अव्वल रहने वालों को ही एससीए में चुना जाता हैं। अगर प्रत्यक्ष छात्रसंघ चुनाव होते हैं तो इसका सीधा असर आने वाले लोकसभा चुनाव पर सीधा पड़ता हैं।

2014 में लगी रोक

2014 से प्रत्यक्ष एससीए चुनाव पर रोक लगी । छात्र संगठनों के कार्यकर्ताओं के बीच खूनी संघर्ष के बाद विवि प्रशासन ने विवि और काॅलेजों में एससीए चुनाव पर रोक लगाई थी। इसके बाद प्रशासन ने अप्रत्यक्ष रूप से एससीए के गठन का फार्मूला निकाला था और इसी सिस्टम से एससीए को चुना जा रहा है।

सरकार ने यूथ से किया था वादा| भाजपा सरकार ने सता में आने के लिए प्रदेश के करीब तीन लाख यूथ से वादा किया था कि चुनाव बहाल कर दिए जाएंगे। प्रत्यक्ष चुनाव होंगे। अब सरकार डर गई है कि यूथ नकार न दें। ऐसे में इस बार भी कांग्रेस सरकार के नक्शे कदम पुराने नियमों के तहत ही एससीए के गठन का फैसला लिया।