शिमला

--Advertisement--

हार्ट अटैक आने से 28 वर्षीय महिला की मौत

शिलाई तहसील के हलांह गांव की 28 वर्षीय महिला प्रोमिला देवी की हार्ट अटैक आने से मौत हो गई है। वह अपने पीछे 2 वर्ष के...

Dainik Bhaskar

May 16, 2018, 02:00 AM IST
शिलाई तहसील के हलांह गांव की 28 वर्षीय महिला प्रोमिला देवी की हार्ट अटैक आने से मौत हो गई है। वह अपने पीछे 2 वर्ष के मासूम को छोड़ गई है। इस घटना के बाद क्षेत्र में मातम छा गया है। जानकारी के मुताबिक रविवार सुबह प्रोमिला देवी ने सीने में दर्द होने की शिकयत की। परिजन इलाज के लिए उसे 48 किमी. दूर िशलाई ले गए थे। वहां इलाज न होने कारण उसे पांवटा साहिब रेेफर किया गया। परिजन उसे 100 किमी दूर पांवटा ले गए। पांवटा से उसे 150 किमी. दूर मेडिकल काॅलेज नाहन भेजा गया। नाहन से डाॅक्टरों ने उसे चंडीगढ़ रेफर कर दिया। परिजनों ने मरीज को 250 किमी दूर चंडीगढ़ तो पहुंचा दिया मगर मगर पीजीआई पहुंचने के बद भी महिला की जान नहीं बचाई जा सकी।

फर्स्ट एड मिलती तो बच जाती जान : प्रोमिला के पति रणदीप ठाकुर ने बातया कि उनके गांव में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र तो है मगर डाक्टर व अन्य स्टाफ न होने के कारण उसमें पिछले 12 वर्षों से ताला लटका हुआ है। यदि पीएचसी में डाक्टर होता तो प्राथमिक उपचार मिलने से उनकी प|ी की जान बच सकती थी। ठाकुर ने बताया कि सरकार की खामियों का क्षेत्र के लोगों को भारी खामियाजा भुगतना पड़ रहा है।

उन्होंने बताया कि उनके पास एक ही बेटा है जिसके सिर पर से 2 वर्ष की आयु में ही मां का साया उठ गया है। क्षेत्र में इलाज के अभाव में हर साल दर्जनों मरीज दम तोड़ते है। उन्होंने सरकार से मांग की पीएचसी हलांह में डाक्टर समेत पूरा स्टाफ भेज दिया जाए। ताकि लोगों को गांव के नजदीक की स्वस्थ्य सेवाएं उपलब्ध हो सके।

X
Click to listen..