Hindi News »Himachal »Shimla» सड़क के मलबे को ग्रामीणों के खेतों में फिंकवा रहा ठेकदार

सड़क के मलबे को ग्रामीणों के खेतों में फिंकवा रहा ठेकदार

Bhaskar News Network | Last Modified - May 11, 2018, 02:05 AM IST

ठेकेदार की लापरवाही से लोगों को पहुंच रहा लाखों का नुकसान

चमेल सिंह देसाईक | शिलाई

दबंगई शिलाई उपमंडल के टिंबी- क्यारी गुण्डाह लिंक सड़क को बना रहे ठेकेदार की दंबगई से लोग परेशान हैं। बिना रोकटोक के यहां सड़क से निकल रहे मलबे को ग्रामीणों की घासणी, खेतों, चारे वाले जंगलों सहित नकदी फ सलों में फेंका जा रहा है। दर्जनों कूकाट के पेड़ मलबे की भेंट चढ़ गए है, तो लाखों रुपए की वन संपदा बर्बाद हो गई है। लेकिन मिल्ला से क्यारी-गुंडाह लिंक सड़क का कार्य प्रगति पर है। 6 किलोमीटर सड़क पर लगभग 7 करोड़ की लागत से सड़क को चौड़ा किया जा रहा है। सड़क को चौड़ा कर रही कंपनी अवैज्ञानिक ढंग से मौका पर कार्य कर रही है। कटिंग से निकल रहे मलबे को सड़क के बाहर साथ-साथ फेंका जा रहा है। जिससे दर्जनों पेड़ मलबे की भेट चढ़ गए हैं। ग्रामीणों की पेयजल लाइनें ग्रस्त हो गई है। लाखों रुपए की वन संपदा मलबे के नीचे दफन हो गई है। इतना ही नहीं बल्कि पशुओं के लिए बनाई गई छानड़ियां मलबे की शिकार हो गई हैं, तो खड्ड में लगे पुश्तैनी पानी से चलने वाले घराट खत्म हो गए हैं। लोगों के खेत मलबे व पत्थरों के ढेर में तब्दील हो गए हैं। नकदी फसलें मलबे में दब गई हैं। मलबा डंपिंग के लिए अलग से कंपनी को पैसा दिया जाता है। लेकिन चंद रुपयों को बचाने के चक्कर में लाखों का नुकसान किया गया है। दुडेच गांव के ग्रामीणों में नंदा राम, धनवीर सिंह, अमर सिंह ने बताया कि सडक़ के मलबे से उनके खेत व फसल तो बर्बाद हो ही गई है। डोहर खड्ड से दो पेयजल लाइने जो गांव को पेयजल सप्लाई करती है, उन्हें भी तोड़ दिया गया है। पिछले 20 दिनों से गांव में पानी नहीं आ रहा है। वहीं, अधिशाषी अभियंता लोनिवि शिलाई प्रमोद उप्रेती बताते हैं कि कंपनी केा मलबे की डंपिंग करने के लिए विभाग कीतरफ से टेंडर के अलग से पैसे दिए जाते हैं। यदि निजी या सरकारी जगह पर मलबा फेंका जा रहा है तो कंपनी व ठेकेदार स्वयं जिम्मेदार है। सहायक अभियंता को मौका पर भेजा जा रहा है निरीक्षण में यदि वन संपदा को नुकसान की रिपोर्ट आई तो उक्त कंपनी व ठेकेदार के खिलाफ पुलिस में मामला दर्ज किया जाएगा। आईपीएच उपमंडल शिलाई के सहायक अभियंता नितिन चिनौरी कहते है कि दुड़ेच गांव की दोनों पेयजल लाइने मलबे के कारण टूट गई है। शिलाई पुलिस थाना प्रभारी जसवीर सिंह ने बताया की उनको डीएसपी पांवटा साहिब के आदेश मिले है। मलबे में टूटे पानी के घराट की जांच के लिए टीम गठित कर मौके पर भेजी जा रही है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Shimla

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×