Hindi News »Himachal »Shimla» राजगढ़ में खिलाड़ियों के लिए बनेगा इनडोर स्टेडियम

राजगढ़ में खिलाड़ियों के लिए बनेगा इनडोर स्टेडियम

राजगढ़ में मेधावी खिलाड़ियों की सुविधा के लिए शीघ्र ही इनडोर स्टेडियम बनेगा। यह जानकारी वन, परिवहन, युवा सेवाएं एवं...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 17, 2018, 02:05 AM IST

राजगढ़ में मेधावी खिलाड़ियों की सुविधा के लिए शीघ्र ही इनडोर स्टेडियम बनेगा। यह जानकारी वन, परिवहन, युवा सेवाएं एवं खेल मंत्री गोविंद ठाकुर ने सोमवार को राजगढ़ में तीन दिवसीय जिला स्तरीय बैशाखी मेले के समापन अवसर पर बतौर मुख्यातिथि जनसभा को संबोधित करते दी। साथ ही इनडोर स्टेडियम के निर्माण के लिए प्रथम किश्त के रूप में 25 लाख रुपए देने की घोषणा की।

उन्होंने स्थानीय प्रशासन को निर्देश दिए कि इनडोर स्टेडियम के लिए शीघ्र ही भूमि चयन की प्रक्रिया समयबद्ध पूरी की जाए। वन मंत्री ने राजगढ़ के वन विश्राम में अतिरिक्त कमरों के सिरमौर शैली में निर्माण के लिए 20 लाख रुपए तथा वन निरीक्षण कुटीर देवठी मझगांव में भी दो अतिरिक्त कमरों के निर्माण के लिए 10 लाख देने की घोषणा की। उन्होंने वन अधिकारियों को निर्देश दिए कि दोनों विश्राम गृह का निर्माण के लिए शीघ्र प्राकलन तैयार किया जाए और इनका निर्माण सिरमौर शैली में किया जाए। राजगढ़ के पास शलाणा के हेलीपेड के पास वन भूमि को ईको टूरिज्म रूप में विकसित करने के लिए वन विभाग को निर्देश दिए। उन्होंने स्थानीय विधायक की मांग पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि राजगढ़ में परिवहन निगम का सब-डिपो खोलने के लिए मुख्यमंत्री के साथ मामला उठाया जाएगा। उन्होंने परिवहन निगम के अधिकारियों को निर्देश दिए कि राजगढ़ में बस अड्डा के विस्तार की संभावनाओं को तलाशा जाए। राजगढ़ में परिवहन सब डिपों खोलने की मांग पर सहानुभूतिपूर्वक विचार किया जाएगा।

परिवहन मंत्री ने राजगढ़ कॉलेज के लिए बस सेवा शीघ्र आंरभ करने के लिए भी परिवहन निगम के अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। पूर्व कांग्रेस सरकार की अव्यवस्था के कारण निगम की 325 बसें खड़ी है। इन बसों के प्रबंधन के उपरांत राजगढ़ क्षेत्र के विभिन्न भागों के लिए नए बस सेवाऐं आरंभ कर दी जाएगी।

राजगढ़ में तीन दिवसीय बैशाखी मेला संपन्न, बतौर मुख्यातिथि पहुंचे खेल मंत्री गोविंद ठाकुर ने की घोषणा

वन मंत्री ने राजगढ़ में किया वन अदालत भवन का लोकार्पण

नाहन | प्रदेश में वन माफिया पर अंकुश लगाने के लिए वन विभाग की ओर से ग्रुप पेट्रोलिंग आरंभ की गई है, जिसके फलस्वरूप वन माफिया के अनेक मामले दर्ज करके उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई आरंभ की गई है । वन, परिवहन, युवा सेवाऐं एवं खेल मंत्री गोविंद ठाकुर ने सोमवार को राजगढ़ में 17 लाख की लागत से निर्मित वन विभाग के कोर्ट रूम का लोकार्पण करने के बाद एक जनसभा को संबोधित करते हुए दी । वन मंत्री ने कहा कि शिमला के कोटी और कांगड़ा के फतेहपुर वन मंडल में हुए अवैध कटान पर सरकार द्वारा कड़ा संज्ञान लेते हुए वन माफियाओं पर कानूनी कार्रवाई की गई है। वन विभाग में 40 वर्ष से कम आयु वर्ग सभी वन रक्षकों को हथियार प्रदान किए जा रहे हैं । इसके अतिरिक्त वन रक्षकों को कैमरें की उपलब्ध करवाए जाएगें । वन माफिया से निपटने के लिए सरकार द्वारा रेपिड रिस्पोंस फोर्स गठित की गई है और फील्ड पर जाने के दौरान विभाग की गाड़ियों में जीपीएस सिस्टम भी लगाया जाएगा । वन मंत्री ने कहा कि वनों का दायरा बढाने के लिए वनीकरण कार्यक्रम को बड़े पैमाने पर विकसित किए जाएंगे। प्रदेश में अच्छी किस्म की नर्सरी तैयार करने पर संबधित अधिकारी व कर्मचारी को होशियार पुरस्कार योजना के तहत पुरस्कृत किया जाएगा । इसके अतिरिक्त पौधरोपण कार्यक्रम को भी जन आन्दोलन बनाने पर विशेष बल दिया जाएगा ।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Shimla

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×