शिमला

  • Hindi News
  • Himachal Pradesh News
  • Shimla News
  • दस दिनों से आमरण अनशन पर बैठे हैं पांच ट्रेनी कंडक्टर, खाली पेट रहने से गुर्दे का हुआ इंफेक्शन
--Advertisement--

दस दिनों से आमरण अनशन पर बैठे हैं पांच ट्रेनी कंडक्टर, खाली पेट रहने से गुर्दे का हुआ इंफेक्शन

आमरण अनशन पर बैठे ट्रेनी कंडक्टरों की तबीयत लगातार बिगड़ रही है। सोमवार को आईजीएमसी में भर्ती पांच ट्रेनी...

Dainik Bhaskar

May 08, 2018, 02:05 AM IST
दस दिनों से आमरण अनशन पर बैठे हैं पांच ट्रेनी कंडक्टर, खाली पेट रहने से गुर्दे का हुआ इंफेक्शन
आमरण अनशन पर बैठे ट्रेनी कंडक्टरों की तबीयत लगातार बिगड़ रही है। सोमवार को आईजीएमसी में भर्ती पांच ट्रेनी कंडक्टरों के स्वास्थ्य की डॉक्टरों ने जांच की। इस दौरान उन्हें बताया गया कि पेट खाली रहने के चलते गुर्दे में इंफेक्शन की शिकायत हो रही है।

आमरण अनशन पर बैठे प्रशिक्षित परिचालक संघ के अध्यक्ष जीत सिंह नैहटा का कहना है कि डॉक्टरों ने उन्हें बताया कि गुर्दे में इन्फेक्शन हो गया है। ऐसे में हालत और बिगड़ सकती है। उनका कहना है कि जब तक सरकार उनकी मांगों को नहीं मानती है, तब तक वह अपना अामरण अनशन समाप्त नहीं करेंगे। पिछले 10 दिन से ये कंडक्टर आमरण अनशन पर बैठे हैं। ऐसे में खाना न खाने की वजह लगातार इनकी तबीयत बिगड़ रही है।

आमरण अनशन

खाली पेट रहने से हो रहा स्वास्थ्य खराब, लिखित में मांगे मनवाने पर हैं अड़े हुए

आमरण अनशन पर बैठे ट्रेनी कंडक्टर

मांगों को लेकर हैं अड़े हुए

वहीं, निगम प्रबंधन की ओर से बीते दिनों समझौते की कोशिश की गई थी, जबकि कंडक्टर लिखित में मांगों को पूरा करने की डिमांड पर अड़े हुए हैं। ऐसे में अब जहां इनकी हड़ताल के चलते लोगों को दिक्कतें हो रही है। वहीं, निगम प्रबंधन को भी रूटों पर बसें भेजने में दिक्कतें हो रही हैं। पांच ट्रेनी कंडक्टर आमरण अनशन पर बैठे हुए हैं। विधानसभा परिसर के बाहर संघ के प्रदेशाध्यक्ष जीत सिंह नैहटा, नाहन से सुरेश कुमार, बिलासपुर से रूपलाल, ढली-2 से दीपचंद और रिकांगपिअों से अभिमन्यु आमरण अनशन पर बैठे हुए हैं। इनकी सबकी हालत अब बिगड़ रही है।

X
दस दिनों से आमरण अनशन पर बैठे हैं पांच ट्रेनी कंडक्टर, खाली पेट रहने से गुर्दे का हुआ इंफेक्शन
Click to listen..